mannan wani 650x400 71515353842

mannan wani 650x400 71515353842

अलीगढ़ । अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी के एक छात्र की आतंकी संगठन में शामिल होने की ख़बर है। कश्मीर का यह छात्र एएमयू से पीएचडी कर रहा था। ख़बर है की छात्र ने कुछ दिन पहले ही यूनिवर्सिटी छोड़ दी थी। फ़िलहाल उसकी कुछ तस्वीरें सोशल मीडिया पर वायरल हुई है जिसमें वह एके 47 राइफ़ल के साथ दिखायी दे रहा है। इससे पहले कश्मीर का फ़ुट्बॉल खिलाड़ी भी आतंकी संगठन में शामिल हो चुका है।

मीडिया में आयी ख़बरों के अनुसार दक्षिणी कश्मीर के रहने वाले बशीर वानी ने कुछ दिन पहले एएमयू में पीएचडी में एडमिशन लिया था। वह यूनिवर्सिटी में अप्लाइड जियोलोजी में पीएचडी कर रहा था। पीछले साल जब कश्मीर में बाढ़ आयी थी तब वानी ने रिमोट सेन्सिंग और जीआइएस तकनीक में अपनी एक रिपोर्ट यूनिवर्सिटी में पेश की थी जिसके लिए उसे पुरस्कार भी मिला था।

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

अब सोशल मीडिया पर उसकी एक तस्वीर वायरल हुई है जिसमें वह एके-47 राइफ़ल के साथ दिखायी दे रहा है। ख़बर है की वानी, आतंकी संगठन हिज़्बुल मुजाहिद्दीन में शामिल हो गया है। फ़िलहाल केंद्र सरकार के लिए यह बेहद चिंतित करने वाली ख़बर है क्योंकि मोदी सरकार काफ़ी समय से कश्मीरी युवाओं को मुख्यधारा में लाने का प्रयास कर रही है। लेकिन ऐसी ख़बरों के बाद उनके प्रयास सफल होते नही दिखायी दे रहे है।

बताते चले की वानी से पहले कश्मीर का फ़ुट्बॉल खिलाड़ी मजीद इरशाद खाद भी एक आतंकवादी संगठन में शामिल हो चुका है। बताया जाता है की एक आतंकी निसार शेरगुज़री के जनाज़े में शामिल होने के बाद  आतंकी संगठन लश्कर-ए-तैयबा में शामिल हो गया। खान ने आतंकवादी संगठन में शामिल होने का अपना इरादा 29 अक्तूबर के एक फेसबुक पोस्ट में जाहिर किया था। उसने अपने फेसबुक पोस्ट में लिखा था कि जब शौक ए शहादत हो दिल में, तो सूली से घबराना क्या।