Wednesday, June 23, 2021

 

 

 

ट्रैक्टर रैली के दौरान घायल हुए पुलिसकर्मियों से अमित शाह ने की मुलाक़ात

- Advertisement -
- Advertisement -

नई दिल्ली: 26 जनवरी को किसानों की ट्रैक्टर रैली के दौरान हुई हिंसा में घायल पुलिसवालों से गृहमंत्री अमित शाह ने आज दिल्ली के अस्पतालों में जाकर घायल पुलिसकर्मियों से मुलाक़ात की। उन्होने हिंसा में शामिल लोगों की जल्द से जल्द पहचान करने का आदेश दिया है।

आधिकारिक आंकड़ों के मुताबिक, हिंसा में 394 पुलिस कर्मी घायल हुए, उनमें से अधिकांश अस्पताल में भर्ती हैं, जबकि कुछ आईसीयू में हैं। दिल्ली पुलिस ने दिल्ली हिंसा में 37 किसान नेताओं के खिलाफ अब तक 25 एफआईआर दर्ज कर ली है। साथ ही 50 उपद्रवियों के खिलाफ नामजद मामले भी दर्ज किए हैं।

इन नेताओं में स्वराज इंडिया के अध्यक्ष योगेंद्र यादव, सामाजिक कार्यकर्ता मेधा पाटकर और भारतीय किसान यूनियन की हरियाणा इकाई के अध्यक्ष गुरनाम सिंह चढ़ुनी शामिल हैं। पुलिस ने लाल किले की हिंसा मामले में पंजाबी अभिनेता दीप सिद्धू और गैंगस्टर से सामाजिक कार्यकर्ता बने लक्खा सिधाना के खिलाफ भी मामला दर्ज किया है।

दिल्ली पुलिस कमिश्नर एसएन श्रीवास्तव ने मीडिया से बातचीत करते हुए बताया कि अब दिल्ली पुलिस का पूरा फोकस अगले कुछ दिनों में दिल्ली हिंसा के दौरान लगे सीसीटीवी और वीडियो फुटेज खंगालेंगे और वो उपद्रवियों के खिलाफ सबूत इकट्ठा करेंगे और उनकी पहचान करके उन्हें गिरफ्तार करेंगे, साथ ही दिल्ली पुलिस की नजर उन लोगों पर भी रहेगी जो लोग इन किसानों को उकसा रहे थे।

दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल ने इस मामले में सिख फॉर जस्टिस नामक आतंकवादी संगठन के खिलाफ यूएपीए के तहत एक मुकदमा 14 जनवरी को दर्ज किया था यह मुकदमा इसलिए दर्ज किया गया था क्योंकि सिख फॉर जस्टिस के आतंकवादी नेताओं द्वारा इंडिया गेट पर खालिस्तानी झंडा फहराने वाले को ढाई करोड रुपए का इनाम देने की घोषणा की गई थी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Hot Topics

Related Articles