Wednesday, May 18, 2022

भीमा-कोरेगांव हिंसा पर अंबेडकर ने कहा – ‘हिंसा के पीछे हिंदू संस्था का है हाथ’

- Advertisement -

prak

भीमा-कोरेगांव लड़ाई की सालगिरह पर दलितों के साथ हुई हिंसा के मामले में बहुजन महासंघ के नेता और डॉ बीआर अंबेडकर के पोते प्रकाश अंबेडकर ने बुधवार को कहा कि इस हिंसा के पीछे हिंदू संस्था का हाथ है. उन्होंने कहा कि अगर भीड़ को नहीं संभालाते तो कम से कम 500 हिंदू संस्था के लोगों की लाश बिछ जाती.

अंबेडकर ने इस हिंसा के लिए हिंदू संस्था के मिलिंद एकबोते ओर सांभाजी भिंडे को जिम्मेदार बताते हुए कहा, हम स्पॉट पर थे और हमें पता है कि इसके पीछे किसका हाथ है. हमने सरकार को नाम दे दिया है, अब उनका काम है कि कार्रवाई करें.

उन्होंने आगे कहा कि अगर कार्रवाई नहीं हुई तो हम आंदोलन करेंगे. हमने ऊना की वारदात सही, कब तक ऐसे और सहते रहेंगे?  उन्होंने कहा न्यायिक जांच हो या ना हो लोगों को पता है कि यह किसने किया है, सरकार उन्हें जांच के पीछे छुपा नहीं सकती. हिन्दू संगठनों को यह नहीं सोचना चाहिए कि वे ही परम संस्था हैं.

दलित नेता ने कहा, ‘घटना के आरोपियों के आतंकवादियों जैसा व्यवहार करना चाहिए. यह सब कुछ गैर-राजनीतिक हिंदू धार्मिक समूहों की अवसरवादी राजनीति का नतीजा है, जो राजनीतिक परिदृश्य में कहीं नहीं हैं. इसी के साथ उन्होंने कल बंद का आह्वान किया.

अंबेडकर ने कहा, अगर मैं कल बंद का आह्रवान नहीं करता तो हर जगह आग फैली होती. मैं शांति के लिए अपील कर रहा हूं और कल बंद शांतिपूर्ण होगा.

- Advertisement -

Hot Topics

Related Articles