यूपी के हाथरस कांड में आज सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई हुई। सुप्रीम कोर्ट ने मामले को दिल्ली ट्रांसफर करने से इंकार कर दिया। साथ ही आदेश दिया कि इस मामले की जांच कर रही सीबीआई अपनी रिपोर्ट हाईकोर्ट को देगी।

सुनवाई के दौरान अदालत ने कहा कि केस की निचली कोर्ट में सुनवाई (ट्रायल) को फिलहाल राज्य से बाहर दिल्ली स्थानांतरित नहीं किया जाएगा। मामले की जांच पूरी होने के बाद ट्रायल के स्थानांतरण पर विचार किया जा सकता है।

सामाजिक कार्यकर्ताओं और वकीलों ने इस मामले में सुप्रीम कोर्ट में याचिका दाखिल कर कहा था कि यूपी में इसकी निष्पक्ष जांच संभव नहीं है। यहां पर यह जांच बाधित की जा सकती है। इसलिए यह जांच दिल्ली में कराई जाए।

इस पर शीर्ष अदालल ने फैसला सुनाते हुए कहा कि सीबीआई उच्च न्यायालय के समक्ष केस की स्थिति रिपोर्ट दायर करेगी। मामले में जांच की निगरानी सहित सभी पहलुओं की देखरेख इलाहाबाद उच्च न्यायालय करेगा और गवाहों को सुरक्षा प्रदान की जाएगी।

उल्लेखनीय है कि पिछले महीने हाथरस में दलित युवती के साथ बलात्कार कर उसकी हत्या कर दी गई थी। जिसके बाद जिला प्रशासन ने कथित रूप से परिवार की सहमति के बगैर ही जबरन युवती का अंतिम संस्कार रात में कर दिया था।

Loading...
विज्ञापन
अपने 2-3 वर्ष के शिशु के लिए अल्फाबेट, नंबर एंड्राइड गेम इनस्टॉल करें Kids Piano