नोटबंदी के तीन महीने पूरे होने के बाद बैंक खातों से नकद निकासी को लेकर रिजर्व बैंक ऑफि इंडिया (आरबीआई) ने आज राहत देने की घोषणा की है।

आरबीआई ने कहा कि कैश निकासी की सीमा 13 मार्च से पूरी तरह खत्म हो जाएगी। यानी उसके बाद रुपए निकालने की लिमिट नहीं रहेगा। आरबीआई ने ये भी कहा कि 20 फरवरी से ग्राहक अपने बचत खाते से एक हफ्ते में 50 हज़ार रुपये निकाल पाएंगे। अब तक एक हफ्ते में निकासी की ये सीमा 24 हज़ार रुपये है।

मॉनेटरी पॉलिसी के रिव्यू का एलान करते हुए आरबीआई के डिप्टी गवर्नर आर. गांधी ने कहा, सेविंग अकाउंट पर विद्ड्रॉअल लिमिट की रोक दो स्टेप में खत्म की जा रही है। पहली स्टेप में इसे 20 फरवरी से 24 हजार से बढ़ाकर 50 हजार रुपए किया जा रहा है। इसके बाद 13 मार्च से यह रोक पूरी तरह हटा ली जाएगी।
बता दें कि आरबीआई ने 1 फरवरी से एटीएम, करंट अकाउंट्स, कैश क्रेडिट अकाउंट्स और ओवरड्राफ्ट अकाउंट्स से पैसा निकालने की लिमिट खत्म कर दी गई थी. नोटबंद के बाद 50 दिन तक एटीएम से 2000 रुपए निकालने की लिमिट तय की गई थी.
दिसंबर के आखिरी में यह लिमिट बढ़ाकर 4500 रुपए कर दी गई. 16 जनवरी को इसे बढ़ाकर 10 हजार रुपए किया गया. 1 फरवरी से इसे खत्म कर दिया गया. हालांकि अब भी केवल एक हफ्ते में कभी भी 24 हजार रुपए तक ही निकाल सकते हैं.
Loading...