Wednesday, December 1, 2021

आप विधायक अलका लाम्बा ने बलात्कारियो का लिंग काटने की दी सलाह कहा, बाप अपनी बेटी को दे धारधार हथियार चलाने की ट्रेनिंग

- Advertisement -

नई दिल्ली | देश में लगातार बलात्कार की घटनाए बढ़ रही है. निर्भया केस के बाद पुरे देश में बलात्कारियो को सख्त सजा देने की मांग की गयी. इसके अलावा सख्त कानून बनाने और बलात्कार के मामलो की जल्द सुनवाई की भी मांग की गयी. लोगो की आक्रोश को देखते हुए संसद में सख्त कानून पास किया गया. लेकिन फिर भी देश में बलात्कार की घटनाये कम होने का नाम नही ले रही है.

हिमाचल प्रदेश में गुडिया का मामला हो या फिर रोहतक में एक लड़की के साथ की गयी दरिंदगी. हर मामले में आरोपी बेख़ौफ़ ऐसी घटनाओं को अंजाम देते रहे. इन घटनाओ को देखने के बाद ऐसा लगता है की निर्भया केस के बाद भी बलात्कारियो में कानून के प्रति कोई डर नही है. स्वतंत्रता दिवस के मौके पर भी कुछ नर पिसाचो ने एक नाबालिग बच्ची को अपनी हवास का शिकार बनाया.

मीडिया रिपोर्ट के अनुसार चंडीगढ़ में स्कूल से स्वतंत्रता दिवस मनाकर घर लौट रही एक नाबालिग लड़की को कुछ लोगो ने पहले अगुवा किया और बाद में उसके साथ बलात्कार किया गया. जहाँ एक तरह पूरा देश आजादी का जश्न मना रहा था वही दूसरी और एक बच्ची इन बलात्कारियो से अपनी आजादी के लिए चीख रही थी. उस समय वह सोच रही होगी की ऐसी आजादी का क्या फायदा जहाँ देश की बेटिया सुरक्षित न हो.

इस मामले में कुछ राजनितिक लोगो की टिप्पणीय भी सामने आई है. आम आदमी पार्टी की विधायक अलका लांबा ने इस घटना पर दुःख जताते हुए बलात्कारियो के खिलाफ बेहद कड़ी सजा की मांग की. उन्होंने सुझाव देते हुए कहा की अब हर माँ बाप को अपनी बेटी को धारधार हथियार चलाने के ट्रेनिंग देनी चाहिए. इसके अलावा जब उनकी बेटी बाहर निकले तो उसको धारधार हथियार साथ देकर भेजना चाहिए.

अलका लांबा ने आगे कहा की अगर किसी भी लड़की पर कोई पुरुष हमला करता है तो लड़की को उसके लिंग पर हमला कर देना चाहिए. अलका ने देश के सिस्टम पर भी तंज कसते हुए कहा की यह सिस्टम नपुंसक और निकम्मा हो गया है. इसलिए हर पिता को अपनी बेटी की हिफाजत के लिए उसको हथियार देखर बाहर भेजना चाहिए.

अलका ने चंडीगढ़ की घटना पर दुःख जताते हुए कहा की आजादी का जश्न मनाने स्कूल गयी हमारी बेटी को हवस का शिकार बनाया गया. ऐसे में बेटी को कैसे बचाया जाए. बस एक ही विकल्प है की बलात्कार के मामलो की सुनवाई 6 महीने में पूरी हो और जुर्म साबित होने पर लड़के के लिंग को काटकर उसको हमेशा के लिए जेल में सड़ने के लिए छोड़ देना चाहिए.

- Advertisement -

[wptelegram-join-channel]

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Hot Topics

Related Articles