लखनऊ | उत्तर प्रदेश में योगी राज आने के बाद अचानक से घोषनाओ की बाढ़ सी आ गयी है. रोजाना कुछ न कुछ घोषणाये की जा रही है. शुक्रवार को भी योगी सरकार ने बिजली से सम्बंधित घोषणा करते हुए कहा कहा की सरकार ने गाँव को 18 घंटे, तहसील स्तर पर 20 घंटे और जिला मुख्यालयों पर 24 घंटे बिजली देने का निर्देश दिया है. अब सरकार की इस घोषणा पर पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने तंज कसा है.

अखिलेश ने योगी सरकार की घोषणा को निरर्थक बताया है. उनका कहना है की जितनी बिजली पहले से मिल रही है उतने की ही घोषणा कर देना जनता के साथ धोखाधड़ी है. अपनी बात को सिद्ध करने के लिए अखिलेश ने कुछ सबूत भी सामने रखे. उन्होंने योगी सरकार और अपनी सरकार के समय के दो पोस्टर दिखाए जिसमें समान घोषणा की गयी है.

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

अखिलेश ने ट्वीट कर लिखा,’ जितनी बिजली पहले से मिल रही थी उतने की ही घोषणा करना निरर्थक है. जनता की अपेक्षा यथास्थिति की नहीं बल्कि इससे अधिक की आपूर्ति की है.’ इस ट्वीट के साथ अखिलेश ने दो पोस्टर शेयर किये है. हालाँकि योगी सरकार ने वादा किया है की 2018 से सभी गाँव को 24 घंटे बिजली मिलनी शुरू हो जाएगी. इसके अलावा उन्होंने करीब 5 लाख नए बिजली कनेक्शन जारी करने की भी घोषणा की.

यह पहला मौका नही है जब अखिलेश ने योगी सरकार पर हमला बोला हो. इससे पहले किसानो की कर्ज माफ़ी की घोषणा के दौरान भी अखिलेश ने तंज कसा था. उन्होंने कहा था की आपने वादा पूरा कर्ज माफ़ करने का किया था लेकिन अब इसको एक लाख तक सीमित करके आपने प्रदेश की जनता के साथ धोखा किया है. बताते चले की योगी सरकार ने इसी मंगलवार को किसानो का एक लाख तक का कर्ज माफ़ करने की घोषणा की थी.

Loading...