अकाल तख्त प्रमुख की आरएसएस पर बैन की मांग, कहा – देश को तबाह कर देगा

10:28 am Published by:-Hindi News

चंडीगढ़। सिख संगठन अकाल तख्त के प्रमुख ने राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (आरएसएस) पर प्रतिबंध लगाने की मांग की है। उन्होंने सोमवार को कहा कि RSS जिस तरह से काम कर रहा है, उससे इतना तो साफ है कि यह देश को बांट देगा।

अकाल तख्त साहिब के जत्थेदार ज्ञानी हरप्रीत सिंह ने अमृतसर में पत्रकारों से बात करते हुए कहा कि हां, इसे प्रतिबंधित कर देना चाहिए।  मुझे लगता है कि RSS जिस तरह से काम कर रहा है उससे वह देश में भेदभाव की एक नई लकीर खींच देगा।

उन्होंने कहा, ‘मुझे लगता है कि आरएसएस जो कुछ भी कर रहा है, वह देश में भेदभाव की लकीर खींच रहा है। जो आरएसएस के नेता बयान देते हैं, वह देश के हित में नहीं हैं।’ उन्होंने कहा कि ‘अगर ऐसा है तो यह देश के लिए ठीक नहीं है। यह देश को नुकसान पहुंचाएगा और उसे बर्बाद कर देगा।’

बता दें कि इससे पहले शिरोमणि गुरुद्वारा प्रबंधक समिति (एसजीपीसी) प्रमुख गोविंद सिंह लोंगवाल ने आरएसएस प्रमुख मोहन भागवन के ‘हिंदू राष्ट्र’ वाले बयान की निंदा की थी। ‘एसजीपीसी प्रमुख आरएसएस प्रमुख मोहन भागवत के उस बयान पर आपत्ति जताई थी जिसमें उन्होंने कहा था कि भारत में रहने वाले सभी लोग हिंदू हैं क्योंकि ये एक हिंदू राष्ट्र है।’

एसजीपीसी को सिख संसद के रूप में भी जाना जाता है, जो समुदाय से जुड़े सभी गुरुद्वारों और धार्मिक मुद्दों का प्रबंधन करती है। इसके पदाधिकारियों को सिख मतदाताओं द्वारा वोट दिया जाता है।

Loading...
लड़के/लड़कियों के फोटो देखकर पसंद करें फिर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें