Monday, September 20, 2021

 

 

 

फ़ेसबुक पर सेक्स चैट में फँसा वायुसेना का अधिकारी, पाकिस्तान को दी ख़ुफ़िया जानकारी

- Advertisement -
- Advertisement -

airforce india 620x400

नई दिल्ली । दिल्ली पुलिस ने पाकिस्तान को ख़ुफ़िया जानकारी देने के आरोप में भारतीय वायुसेना के एक अधिकारी को गिरफ़्तार किया है। बताया जा रहा है की पाकिस्तान की ख़ुफ़िया एजेन्सी आईएसआई ने वायुसेना अधिकारी को पहले हनी ट्रेप में फँसाया फिर उनसे ख़ुफ़िया दस्तावेज़ों की जानकारी हासिल की। फ़िलहाल अदालत ने अधिकारी को 5 दिन की पुलिस रिमांड पर भेज दिया है।

टाइम्ज़ ओफ़ इंडिया के अनुसार दिल्ली पुलिस ने वायुसेना के ग्रुप कैप्टन अरुण मारवाह को गिरफ़्तार किया है। अरुण पर आरोप है की उन्होंने व्हाटसएप के ज़रिए पाकिस्तानी ख़ुफ़िया एजेन्सी आइएसआइ को भारतीय वायुसेना के मुख्यालय में चल रहे युद्धाभ्यास से जुड़े कुछ वर्गीकृत दस्तावेज़ मुहैया कराए। उनकी गतिविधियों को संदिग्ध पाए जाने के बाद 31 जनवरी को वायुसेना ने उन्हें हिरासत में लिया था।

टाइम्ज़ ओफ़ इंडिया ने सूत्रों के हवाले से बताया है कि पीछले साल दिसम्बर के मध्य में आइएसआइ ने अरुण को फ़ेस्बुक के ज़रिए हनी ट्रैप में फँसाया। इसके लिए जिन मॉडल की प्रोफ़ायल का इस्तेमाल किया गया उनके पीछे आइएसआइ का हाथ था। क़रीब दो हफ़्ते तक इन मॉडल ने अरुण से गर्मागर्म बातें की। इसके बाद सेक्स चैट के बदले उन्होंने वायुसेना की ख़ुफ़िया जानकारी देने को कहा जिसे कैप्टन ने मान लिया।

51 वर्षीय अरुण ने व्हाटसएप के ज़रिए ये दस्तावेज़ उन्हें मुहैया कराए। फ़िलहाल पुलिस इस बात की तफ़तीश करने में जुटी है की अरुण ने युद्धाभ्यास के अलावा और किन किन दस्तावेज़ों को लीक किया। हालाँकि पुलिस को अभी तक किसी वित्तीय लेनदेन के सबूत हाथ नही लगे है। पुलिस का फ़िलहाल यही कहना है की अरुण सेक्स चैट के बदले ख़ुफ़िया दस्तावेज़ दुश्मन देश को दे रहे थे। इनमे ‘गगन शक्ति’ नाम के अभ्‍यास की जानकारी उन्होंने आइएसआइ को दी। फ़िलहाल उनको पटियाला हाउस की अदालत में पेश किया गया। अदालत ने अरुण को पाँच दिन की पुलिस रीमांड में भेज दिया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Hot Topics

Related Articles