टीवी चैनलों की और से ख़रीदे गए फर्जी मौलानाओं की शामत आने वाली है. दरअसल आल इंडिया मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड ने ऐसे मौलानाओं और इस्लामिक धर्मगुरुओं पर कार्रवाई का मन बना लिया है.

दरअसल कई मौकों पर देखा गया है कि कई चैनलों पर मुस्लिम धर्म का प्रतिनिधित्व करने वाले मौलाना मुस्लिम धर्म को भी बदनाम करते हुए नजर आते है. इनमे से कई मौलाना फर्जी होते है और कई चैनलों की और से टीआरपी के लिए बैठाए जाते है. ऐसे में अब  आल इंडिया मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड (AIMPLB) फर्जी मौलानाओं पर शिकंजा कसने की तैयारी में है.

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

बोर्ड के कार्यकारी सदस्य मौलाना खालिद राशिद फिरंगी महली ने कहा कि आजकल टीवी पर बहुत सारे फर्जी मौलाना नजर आ रहे हैं. इन मौलानाओं को इस्लाम और शरीयत कानून के बारे में कुछ भी पता नहीं है. ऐसे मौलवियों और मौलानाओं के खिलाफ शिकंजा कसा जाना चाहिए, जो मुस्लिम समुदाय और इस्लाम को बदनाम कर रहे हैं.

उन्होंने कहा, “आजकल टीवी पर बहुत सारे मौलाना और मौलवी दिख रहे हैं, जिनकी कोई विश्वसनीयता नहीं है. बस उनका काम ये है कि एक टोपी पहनकर और दाढ़ी बढ़ाकर टीवी परिचर्चा में शामिल हो जाते हैं. ऐसे लोग मुस्लिम समुदाय को बदनाम कर रहे हैं, क्योंकि इनके पास इस्लाम और शरिया का कोई ज्ञान नहीं है.”

फिरंगी महली ने कहा कि वह जल्द ही ऐसे फर्जी मौलवी और मौलाना के खिलाफ ऑल इंडिया पर्सनल लॉ बोर्ड के समक्ष एक प्रस्ताव रखेंगे, जिससे इनके खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाए.

Loading...