बाबरी मस्जिद मामले में सुप्रीम कोर्ट में 8 फरवरी से सुनवाई शुरू होनी है. ऐसे में आल इंडिया मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड अपनी तैयारी में जुट गया है.

शनिवार को बोर्ड के सदस्यों ने कानूनी विशेषज्ञों के साथ अहम बैठक की. ये बैठक दिल्ली के इंडियन इस्लामिक कल्चरल सेंटर में हुई. बोर्ड के प्रमुख सदस्य और मुस्लिम पक्षकार की ओर के वकील ज़फरयाब ज़िलानी ने कहा कि हम चाहते है कि सुप्रीम कोर्ट का फैसला जल्द से जल्द आए.

उन्होंने कहा, मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड जल्द से जल्द सुनवाई के पक्ष में है. इसीलिए कानूनी जानकारों के साथ बैठक की गई और ये बैठक मुस्लिम पक्ष को कानूनी रूप से मजबूत तरीके से रखने के लिए की गई है.

जिलानी ने आगे कहा कि हमारा पक्ष शुरू से यही रहा है कि अयोध्या मामले में जल्द से जल्द सुनवाई शुरू हो. उन्होंने कहा कि सुप्रीम कोर्ट में इस मामले में विस्तृत सुनवाई हो, सभी दस्तावेजों पर गौर किया जाए और पक्षकारों की बात को भी सुप्रीम कोर्ट पूरी तरह से सुने. इसमें किसी तरह की कोई जल्दबाजी ना हो.

बोर्ड के सदस्य कमाल फारूकी ने कहा, ‘‘हम पूरी तैयारी के साथ शीर्ष अदालत में अपना पक्ष रखेंगे और उम्मीद है कि फैसला हमारे हक में आएगा.’’

मुस्लिम परिवार शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें

Loading...

विदेशों में धूम मचा रहा यह एंड्राइड गेम क्या आपने इनस्टॉल किया ?