जवाहरलाल नेहरु विश्वविद्यालय (JNU) से लापता चल रहे छात्र नजीब अहमद के परिजनों से 20 लाख की फिरौती मांगने वाले व्यक्ति को गिरफ्तार किया गया है. दिल्ली पुलिस की क्राइम ब्रांच ने एक शख्स को शनिवार को यूपी के महाराज गंज इलाके से गिरफ्तार किया है. पुलिस इसे ट्रांजिट रिमांड पर लेकर दिल्ली आ रही है. इसके रविवार देर शाम तक दिल्ली पहुँचने की उम्मीद है.

वरिष्ठ पुलिस अधिकारी ने बताया कि व्यक्ति ने नजीब के परिजनों को तीन दिन पहले फोन किया था. संयुक्त पुलिस आयुक्त रवींद्र यादव ने कहा कि उत्तर प्रदेश के महराजगंज से व्यक्ति को गिरफ्तार किया गया है लेकिन आरोपी की पहचान स्थापित नहीं हो पाई है.

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

अपराध शाखा के एक दल ने डीसीपी जी राम गोपाल नायक की निगरानी में आरोपी के स्थान का पता लगाया था. हालांकि नजीब के परिवार के एक सदस्य ने कहा, ‘‘हमें फिरौती मांगने वाली कोई भी कॉल नहीं आई है.’’ इस बारें में पुलिस अधिकारियों का कहना हैं कि गिरफ्तार शख्स नजीब के रिश्तेदार को डरा धमकाकर वह पैसे ऐंठना चाह रहा हो, उसे नजीब के बारे में पता भी न हो.

गौरतलब रहें कि जेएनयू के एमएसी बायोटेक्नॉलजी छात्र नजीब 15 अक्टूबर से लापता है. उसके लापता होने से पहले एबीवीपी केकार्यकर्ताओं ने उसके साथ कैंपस में मारपीट की थी.

Loading...