najib

जवाहरलाल नेहरू यूनिवर्सिटी (जेएनयू) के लापता छात्र नजीब अहमद के मामले में दिल्ली हाई कोर्ट ने सुनवाई करते हुए पुलिस को जेएनयू के नौ छात्रों का जल्द से जल्द लाई डिटेक्टर टेस्ट करवाए जाने का निर्देश दिया.

गुरुवार को कोर्ट ने कहा कि यह मामला गंभीर है. लिहाजा हर उस शख्स को खंगाला जाए जो मामले पर रोशनी डाल सकता है. इसके अलावा कोर्ट ने दिल्ली पुलिस की क्राइम ब्रांच से यूनिवर्सिटी के इन पूर्व छात्रों के निवास पर तलाशी लेने के लिए भी कहा है. साथ ही दिल्ली पुलिस ने हाई कोर्ट मे इस मामले में जांच से जुडी अपनी स्टेटस रिपोर्ट दाखिल कर दी.

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

इस मामलें में अगली सुनवाई 23 जनवरी, 2017 को हैं, ऐसे में कोर्ट ने कहा कि जितनी जल्दी हो सके नौ छात्रों का लाई डिटेक्टर टेस्ट किया जाए. जब कोर्ट से कहा गया कि नौ छात्रों में से दो पूर्व छात्र हैं और छात्रों परिसर के बाहर निवास करते हैं तो कोर्ट ने पुलिस से दोनों पूर्व छात्रों के आवास की खोजी कुत्तों की मदद से जांच-पड़ताल करने के लिए कहा.

छात्रों के नाम जिनका लाई डिटेक्टर टेस्ट होना है:

1. विक्रांत कुमार

2. अंकित कुमार रॉय

3. विजेंदर ठाकुर

4. ऐश्वर्य प्रताप सिंह

5. सुनील प्रताप सिंह

6. पुष्पेष झा

7. अर्णब चक्रबर्ती

8. अभिजीत झा (अवैध रूप से निवास)

9. संतोष कुमार (अवैध रूप से निवास)

Loading...