1 1513969053 618x347

1 1513969053 618x347

भुवनेश्वर । माना जाता है की सार्वजनिक जीवन जीने वाले व्यक्ति को अपने शब्दों का चयन बहुत सोच समझ कर करना चाहिए। फिर भी हमारे देश के राजनेता, आए दिन ऐसे बयान देते रहते है जिससे किसी समुदाय विशेष की भावनायें आहत होती रहती है। ओड़िसा के कृषि मंत्री ने भी ब्रह्मणो को लेकर ऐसी बात कह दी की प्रदेश में पहले उनके ख़िलाफ़ विरोध प्रदर्शन हुए और बाद में उन्हें अपने पद से हाथ धोना पड़ा।

दरअसल ओड़िसा के कृषि मंत्री दामोदर राउत ने 17 दिसम्बर को मल्कानगिरि में एक कार्यक्रम के दौरान ब्राह्मण समाज को लेकर आपत्तिजनक टिप्पणी कर दी। उन्होंने कहा कि राज्य के किसी भी हिस्से में कोई आदिवासी भीख नहीं मांग रहा, लेकिन बस अड्डे जैसे स्थानों पर ब्राह्मणों को भीख मांगते कोई भी देख सकता है। उनके इस बयान के बाद प्रदेश के ब्राह्मण उनके ख़िलाफ़ सड़कों पर उतर गए।

कई जगह पर उनके ख़िलाफ़ प्रदर्शन किए गए। कही जगह पर धरने दिए गए। ब्रह्मणो की नाराज़गी को देखते हुए मुख्यमंत्री नवीन पटनायक ने दामोदर को उनके पद से बर्खास्त कर दिया। भुवनेश्वर में मीडिया से बात करते हुए उन्होंने कहा,’ किसी भी जाति, नस्ल या धर्म के खिलाफ अपमानजनक टिप्पणी करने वाले किसी व्यक्ति को मैं सख्ती से नामंजूर करता हूं। मैंने डॉ राउत को मंत्रिपरिषद से बर्खास्त कर दिया है।’

बता दे की दामोदर बीजू जनता दल के उपाध्यक्ष भी है। न्यूज़ एजेन्सी भाषा के अनुसार मुख्यमंत्री ने राज्यपाल को पत्र लिखकर दामोदर की बर्ख़ास्तगी के बारे में सूचित कर दिया है। हालाँकि इस पूरे विवाद में दामोदर की और से कोई प्रतिक्रिया सामने नही आयी है। मालूम हो कि फ़िल्म अभिनेता सलमान खान ने भी वाल्मीकि समाज को लेकर एक आपत्तिजनक टिप्पणी की थी जिसके बाद उनके ख़िलाफ़ भी देश भर में प्रदर्शन हो रहे है।

Loading...

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें