पटना | उत्तर प्रदेश में अवैध बूचडखानो पर हो रही कार्यवाही के बाद देश के बाकी राज्यों में भी इनके खिलाफ कार्यवाही करने की मांग जोर पकड़ रही है. हालाँकि बीजेपी शासित पांच राज्यों में अवैध बूचडखानो पर कार्यवाही शुरू हो गयी है लेकिन गैर बीजेपी शासित राज्यों में भी अब धीरे धीरे आवाज उठने लगी है. बिहार में बीजेपी विधायको ने सदन में अवैध बूचडखानो पर कार्यवाही करने की मांग की है.

इसके अलावा बिहार हाई कोर्ट ने भी सरकार को निर्देश दिया है की वो रोहतास जिले के सभी अवैध बूचडखानो पर कार्यवाही करे. हाई कोर्ट के निर्देश पर कार्यवाही करते हुए रोहतास जिले के विक्रमगंज इलाके में 7 बूचडखानो को सील किया गया है. जिला प्रशासन ने बताया की अवैध बूचडखानो के साथ साथ उन सभी बूचडखानो को सील किया गया है जिन्होंने 31 मार्च तक अपने लाइसेंस रिन्यू नही कराये है.

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

योगी सरकार बनने के बाद उत्तर प्रदेश में सभी अवैध बूचडखानो पर कार्यवाही की गयी है. इसी की देखा देखी बिहार में भी बीजेपी विधयाको ने बूचडखानो पर कार्यवाही की मांग की थी. विधानसभा में बीजेपी नेता प्रेम कुमार ने सरकार से मांग की थी की वो अवैध बूचडखानो पर कार्यवाही करे. प्रेम कुमार ने धमकी देते हुए कहा था की अगर सर्कार कार्यवाही नही करेगी तो सदन से लेकर सड़क तक आन्दोलन करेगी.

इस पर बिहार सरकार में पशुपालन मंत्री अवधेश कुमार सिंह ने कहा की सरकार ने सभी जिला अधिकारियो को पत्र लिखकर पहले ही अवैध बूचडखानो पर कार्यवाही करने के निर्देश दे दिए है.बताते चले की बिहार में इस वक्त करीब 150 अवैध बूचडखाने चल रहे है. उधर यूपी के बाद राजस्थान, झारखण्ड, मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ़ और उत्तराखंड में बूचडखानो पर कार्यवाही की गयी है.

Loading...