Thursday, December 9, 2021

हार के बाद राजनीतिक पार्टियां EVM को बना रही बलि का बकरा: चुनाव आयोग

- Advertisement -

चुनावों के बाद ईवीएम पर लगा तार उठते सवालों पर चुनाव आयोग राजनीतिक दलों पर भड़क चूका है. मुख्य चुनाव आयुक्त ओमप्रकाश रावत ने शनिवार को कहा कि ‘ईवीएम को बलि का बकरा बनाया जा रहा है क्योंकि वह बोल नहीं सकती।

चुनावों में बैलट पेपर के इस्तेमाल को मंजूरी दिए जाने की किसी भी संभावना को खारिज करते हुए रावत ने कहा, ‘हार को हजम न कर पाने वाले राजनीतिक दलों को ठीकरा फोड़ने की जरूरत होती है.’

ईवीएम में गड़बड़ी के सवालों पर रावत ने कहा कि जब भी ऐसा होता है तो हम अपनी बात रखते हैं. जुलाई 2017 में हुई बैठक में फैसला लिया गया था कि भविष्य में सारे चुनाव ईवीएम से होंगे और वीवीपैट की सुविधा होगी। इससे वोटर को यह जानकारी मिल सकेगी कि जिसे वोट दिया गया है, उसे मिला है या नहीं। वीवीपैट की सुविधा से चुनाव में पारदर्शिता आयेगी.

रावत ने कहा, ‘नियम के मुताबिक चुनाव आयोग किसी भी सदन का कार्यकाल पूरा होने से 6 महीने पहले ही अधिसूचना जारी कर सकता है. यह चुनाव आयोग पर कानूनी बाध्यता है. हम उससे परे नहीं जा सकते.’

मुख्य चुनाव आयुक्त ने कहा कि पूरी चुनाव प्रक्रिया को भ्रष्टाचार मुक्त रखने और धन-बल का इस्तेमाल रोकने के लिए आयोग कारगर उपाय कर रहा है. चुनाव आयोग सभी राजनीतिक दलों द्वारा धन जुटाने के लिए इलेक्टोरल बांड जारी करने के सरकार के फैसले पर भी विचार कर रहा.

- Advertisement -

[wptelegram-join-channel]

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Hot Topics

Related Articles