रविश कुमार ने कहा’ अकेली लड़की जब बोलती है..’, तभी गुरमेहर को मिला लोगो का समर्थन

11:00 pm Published by:-Hindi News
वरिष्ट पत्रकार, रवीश कुमार

नई दिल्ली | मोदी सरकार बनने के बाद देश में दो विचारधाराए एक दुसरे से टकरा रही है. एक वो जो सरकार के लिए सिर्फ जिंदाबाद का नारा लगा रही है और दूसरी वो जो सरकार के काम काज पर सवाल खड़े कर रही है. सरकार जिंदाबाद कहने वाले लोग दुसरे पक्ष को राष्ट्रविरोधी घोषित करने में लगे हुए है. जबकि खुद को राष्ट्र भक्त. इसी वजह से देश में जेएनयु और रामजस कॉलेज बार बार दिखाई दे रहे है.

अभी हाल ही में दिल्ली के रामजस कॉलेज में बीजेपी की छात्र इकाई ABVP ने जो तांडव किया उसके विरोध में एक लड़की ने बोलने का साहस किया. हालाँकि देश में न जाने कितने लोग अकेले विरोध प्रदर्शन कर रहे है लेकिन उनकी सुध लेने वाला कोई नही है. लेकिन अगर कोई लड़की बोलती है तो उसकी बात में वजन होता है. इसके अलावा चूँकि लड़की एक कारगिल शहीद कर्नल की बेटी इसलिए उसका विरोध करना राष्ट्रभक्तो को थोडा मुश्किल नजर आया.

जी हाँ हम बात कर रहे है ‘गुरमेहर कौर’ की. ABVP के खिलाफ आवाज उठाने का सिला उनको ट्वीटर पर गलियों और रेप करने की धमकी के रूप में मिला. जब उसने इन लोगो की धमकियों से नही डरने का फैसला किया तो वो लोग गुरमेहर का पिछले साल का एक विडियो निकाल कर लाये और यह साबित करने में लग गए की वो पाकिस्तान परस्त है. अब इन राष्ट्रभक्तो को कोई क्या समझाए की गुरमेहर कहना क्या चाहती है? क्योकि अपने आप को राष्ट्र का ठेकेदार बताने वाले ये लोग यह समझाना ही नही चाहते.

इस विडियो के वायरल होने पर सरकार ने भी गुरमेहर के खिलाफ आवाज बुलंद की. केन्द्रीय गृह राज्य मंत्री किरण रिजीजू ने तो यहाँ तक कह दिया की न जाने कौन लोग इस लड़की का दिमाग दूषित कर रहे है. सरकार का सहारा मिलते ही गुरमेहर के खिलाफ सोशल मीडिया पर एक मुहीम शुरू हो गयी. उनको ट्रोल किया जाने लगा. ऐसे में रविश कुमार के शो ने गुरमेहर को संजीवनी देने का काम किया.

NDTV के रविश कुमार ने अपने शो ‘प्राइम टाइम’ में जैसे ही गुरमेहर के पक्ष में बोलना शुरू किया, लोगो ने उसका समर्थन भी शुरू कर दिया. इस शो में रविश ने ऑस्ट्रेलिया के रहने वाले एक पाकिस्तानी फैज़ आलम का भी जिक्र किया. रविश ने बताया की गुरमेहर साल भर पुरानी उस विडियो से एक सन्देश देना चाहती थी की दोनों देशो के बीच शांति होनी चाहिए, क्योकि अगर युद्ध नही होगा तो किसी गुरमेहर का पिता शहीद नही होगा.

गुरमेहर की इस विडियो का असर यह हुआ की ऑस्ट्रेलिया में रहने वाले पाकिस्तानी नागरिक फयाज खान ने यूट्यूब पर गुरमेहर का समर्थन करते हुआ अपना एक विडियो अपलोड किया. इसमें फयाज खान गुरमेहर की मुहीम का समर्थन करते हुए कहते है की मैं आपके साथ हूँ. मैं चाहता हूँ की दोनों देशो के बीच शांति हो क्योकि मेरे आसपास भी कई गुरमेहर है.

फयाज खान ने कहा की मैं आपको आपके पिता का प्यार तो नही दे सकता लेकिन एक दुश्मन देश से भाई का प्यार जरुर दे सकता हूँ. मैं चाहता हूँ की दुनिया में दुश्मन देश की तरह सिबलिंग(भाई बहन ) देश हो तो युद्ध कभी होंगे ही नही और न ही और गुरमेहर होंगी. रविश ने फयाज के उस विडियो को दिखाते हुए कहा की गुरमेहर की विडियो वो काम कर गयी जो 1000 मिसाइल भी नही कर सकी. रविश के इस शो के बाद ही गुरमेहर के समर्थन में बॉलीवुड, नेता और खिलाडियों ने उतरना शुरू किया.

देखे विडियो 

Loading...