CAA के बाद अब जनसंख्या नियंत्रण कानून लाने की तैयारी: साध्‍वी निरंजन ज्‍योति

केंद्रीय राज्यमंत्री निरंजन ज्योति ने कहा जब असंभव कार्य देश में हो रहे हैं तो कानून कोई भी हो। उसे पास होने में देर नहीं लगेगी। उन्होने उम्मीद जताई कि केंद्र सरकार नागरिकता संशोधन कानून (CAA) के बाद अब जनसंख्या नियंत्रण कानून ला सकती है।

स्वामी वामदेव जी की श्रद्धांजलि सभा में ज्योतिर्मठ पहुंचीं केंद्रीय मंत्री साध्वी निरंजन ज्योति ने कहा कि जब तक जनसंख्या पर नियंत्रण नहीं होगा, हम (देश) कामयाब नहीं होंगे। इसके लिए सुझाव प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को भी दिया था। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री ने अनुच्छेद 370 हटाने, धार्मिक उत्पीड़न झेलने वालों को नागरिकता देने में कोई संकोच नहीं किया।

उन्होंने कहा, “एक समय था जम्मू और कश्मीर से अनुच्छेद 370 को हटाया जाना असंभव बताया जा रहा था। धमकियां दी जा रही थीं कि यदि ऐसा हुआ तो खून की नदियां बह जाएंगी। कश्मीर में कोई तिरंगा झण्डा पकड़ने वाला नहीं मिलेगा. लेकिन यह सरकार देशहित में कोई भी कानून लाना पड़े, तो ला सकती है।”

राज्यमंत्री ने कहा, “अब सबको विश्वास हो गया है कि कश्मीर से अनुच्छेद 370 हट सकता है और राम मंदिर का फैसला भी आ सकता है तो देश के लिए जो भी कानून जरूरी हुआ प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी उसे अवश्य लाएंगे। उन्होंने यह इतना बड़ा आन्दोलन (सीएए आदि कानून एवं प्रस्तावित बिलों का विरोध) खड़ा हो जाने के बाद भी तीन देशों में धार्मिक उत्पीड़न झेलने वाले लोगों को नागरिकता देकर सिद्ध कर दिया है।”

निरंजन ज्योति ने कहा,”जैसा कि स्वामी (सांसद सच्चिदानन्द साक्षी) जी ने अपना अनुभव बताया है। 2019 से पहले मैंने भी प्रधानमंत्री से अकेले में कुछ चर्चा की थी। मैंने उनसे कहा थाकि आप चाहे जितनी सड़कें बनाएं, कितने भी आवास बनाएं या फिर चाहे जितने मेडिकल कॉलेज खड़े करें। जब तक तेजी से बढ़ती जनसंख्या पर नियंत्रण नहीं लगेगा, बहुत ज्यादा कामयाब नहीं हो पाएंगे। इस पर वे उस समय तो मुस्कुराकर रह गए। लेकिन, मुझे विश्वास है कि उन्होंने इस विषय पर चिंतन-मंथन जरूर किया है और अब वे इस ओर कदम बढ़ाने वाले हैं।”

विज्ञापन