कोरोना काल के दौरान लोगों को व्यवसाय और व्यापार के ठप्प होने से काफी नुकसान हुआ है तो दूसरी और भारत में न केवल अरबपतियों की संख्या में इजाफा हुआ बल्कि उनकी संपत्ति में भी वृद्धि देखी गई. कोरोना काल में भारत के कुल 177 लोग अरबपतियों की सूची में शामिल हुए हुए.

‘हुरुन ग्लोबल रिच लिस्ट 2021’ के अनुसार, रिलांयस इंडस्ट्रीज के मालिक मुकेश अंबानी भारत के सबसे अमीर शख्स और दुनिया के आठवें सबसे अमीर व्यक्ति हैं. रिपोर्ट के मुताबिक, अंबानी की संपत्ति में 24 फीसदी का उछाल दर्ज किया गया। अंबानी की कुल संपत्ति 83 अरब डॉलर आंकी गई है.

वहीँ गुजरात के उद्योगपति गौतम अदाणी की संपत्ति में भी अच्छा इजाफा हुआ है. वर्ष 2020 में उनकी संपत्ति 32 अरब डालर तक पहुंच गई और दुनिया के अमीरों की सूची में उनका स्थान 20 पायदान चढ़कर 48 नंबर पर पहुंच गया. मुकेश अंबानी के बाद वह दूसरे सबसे अमीर भारतीय बन गये हैं. उनके भाई विनोद की संपत्ति 128 प्रतिशत बढ़कर 9.8 अरब डालर हो गई.

दुनिया में सबसे अमीर व्यक्ति टेस्ला और स्पेसएक्स के सीईओ एलोन मस्क हैं जिनकी कुल संपत्ति 197 अरब डॉलर है. मस्क की संपत्ति 2020 में तीन गुना से अधिक हो गई. अमेजन के संस्थापक जेफ बेजोस दूसरे स्थान पर हैं. 35 प्रतिशत की वृद्धि के साथ उनकी संपत्ति का कुल मूल्य 189 अरब डॉलर हो गया है.

हुरुन ग्लोबल रिच लिस्ट 2021 के 10वें संस्करण के अनुसार दुनिया में 2020 में प्रत्येक सप्ताह आठ नए लोग अरबपति बने हैं और एक साल में 421 नए अरबपति इस सूची में शामिल हुए हैं. इसके साथ ही अब दुनिया में कुल अरबपतियों की संख्या 3,288 हो गई है. ये 3,288 अरबपति 68 देशों की 2,402 कंपनियों में हैं.