ola4

देश में मुस्लिमों के खिलाफ दक्षिणपंथियों ने एक अभियान चलाया हुआ है. जिसके तहत उनके खिलाफ न केवल बड़े पैमाने पर नफरत को बढ़ावा दिया जा रहा है. बल्कि देश के बहुसंख्यक समाज को भी भड़काया जा रहा है. ऐसे लोगों को सत्ता में बैठे लोगों का समर्थन भी हासिल है.

ऐसा ही मामला सोशल नेटवर्किंग साईट ट्विटर पर देखने को मिला. जब ट्विटर यूजर्स अभिषेक ने एक ट्वीट किया. जिसमे उसने बताया कि उसने एक कैब बुक करने के बाद कैंसिल कर दी क्योंकि उस कैब का ड्राइवर मुस्लिम था.

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

अभिषेक ने अपने ट्विटर हैंडल पर कैब ड्राइवर की डिटेल के स्क्रीनशॉट के साथ लिखा, “ओला कैब बुकिंग कैंसिल कर दी क्योंकि ड्राइवर मुस्लिम था.मैं अपना पैसा जिहादी लोगों को नहीं देना चाहता हूं.” बता दें कि अभिषेक का ट्विटर अकाउंट वेरिफाइड है और उसे पीएम नरेंद्र मोदी कैबिनेट के कई केंद्रीय मंत्री फॉलो करते हैं, जिनमें निर्मला सितारमन, धर्मेंद्र प्रधान शामिल हैं.

इस मामले को लेकर अभिषेक की तीखी आलोचना भी हुई. अभिषेक के ट्वीट पर अपनी प्रतिक्रिया देते हुए एक यूजर ने लिखा, “बेशक संघी पागल, मध्यपूर्वी देशों से भी तेल का कॉन्ट्रेक्ट खत्म कर दो क्योंकि वे भी मुस्लिम हैं.” एक ने लिखा, “क्या यह व्यक्ति जानता है कि इतने सालों से जो तेल इस्तेमाल कर रहा है वह कहां से आ रहा है.”

Loading...