Monday, May 16, 2022

स्वरा भास्कर को मिला करारा जवाब, वजाइना के नाम पर खोखला फ़ेमिनिज़म न फैलाए

- Advertisement -

मुंबई । संजय लीला भंसाली की फ़िल्म ‘पद्मावत’ पूरे देश में रिलीज़ हो चुकी है। अपने कांटेंट की वजह से विवादों में रही यह फ़िल्म काफ़ी अच्छा बिजनेस कर रही है। हालाँकि फ़िल्म के रिलीज़ से पहले करनी सेना समेत कई राजपूत संगठन ने ज़बरदस्त हंगामा भी किया। लेकिन बॉलीवुड की कई हस्तियों समेत फ़िल्म को दर्शकों का भी ज़बरदस्त समर्थन मिला। लेकिन अभिनेत्री स्वरा भास्कर फ़िल्म देखकर काफ़ी नाराज़ हो गयी।

यही वजह रही की उन्होंने संजय लीला भंसाली को एक खुला ख़त लिख दिया। उन्होंने लिखा,’ ‘भंसाली जी ने सती और जौहर प्रथा का महिमामंडन किया है। महिलाएं चलती-फिरती वजाइना नहीं हैं। हां महिलाओं के पास यह अंग होता है लेकिन उनके पास और भी बहुत कुछ है। इसलिए लोगों की पूरी जिंदगी वजाइना पर केंद्रित, इस पर नियंत्रण करते हुए, इसकी हिफाजत करते हुए, इसकी पवित्रता बरकरार रखते हुए नहीं बीतनी चाहिए।’

स्वरा का यह ख़त सोशल मीडिया पर वायरल हो चुका है। इसलिए रासलीला के को राइटर ने स्वरा को एक ओपन लेटर के ज़रिए जवाब देने की कोशिश की। उन्होने स्वरा पर खोखला फ़ेमिनिज़म फैलाने का आरोप लगाया। उन्होंने An open letter to all Vaginas टाइटल के साथ यह ख़त लिखा। वह लिखते है,’ महिलाओं के पास वजाइना होती है। यह जीवन का रास्ता है क्योंकि वह जीवन दे सकती है। एक पुरुष लाख कोशिशों के बावजूद ऐसा नहीं कर सकता है।’

वह आगे लिखते है,’ ऐसे में दोनों जेंडर की समानता के सवाल का सही जवाब मिल जाता है। कई एक्टर्स, फिल्ममेकर और कलाकारों का लगता है कि वो आधुनिक सिनेमा में फेमिनिजम की नई परिभाषा देते हुए लोगों को रास्ता दिखाएंगे। ऐसे में वो हाल ही के सिनेमा में दिखाए गए दृश्यों को यादकर सच और झूठ का फर्क समझ लें। फिल्म के दृश्य में दिखाया गया है कि एक महिला पति/प्रेमी से धोखा खाने के बाद हाथ में शराब लिए बैकग्राउंड में पुरानी फिल्म के गाने सुनते हुए गलियों में भटक रही है।’

पढ़े पूरा ख़त  

- Advertisement -

Hot Topics

Related Articles