kamlesh-tiwari-is-preparing-for-election

kamlesh1_1452575650

पैगम्बर ए इस्लाम की शान में तौहीन करने वाले कमलेश तिवारी पर से लाहाबाद हाई कोर्ट की लखनऊ खंडपीठ ने रासुका हटा दिया हैं.

तिवारी ने पिछले साल दिसंबर में मुसलमानों की धार्मिक भावनाओं के साथ खिलवाड़ करते हुए पैगम्बर ए इस्लाम हजरत मुहम्मद (सल्ल.) की शान में आपतिजनक टिप्पणी की थी. जिसके बाद उसे पुलिस ने राष्ट्रीय सुरक्षा कानून (रासुका) के तहत गिरफ्तार किया था.

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

तिवारी ने पिछले साल 2 दिसंबर को एक प्रेस रिलीज में पैगम्बर ए इस्लाम के खिलाफ आपतिजनक टिप्पणी की थी जिएके बाद देश भर में विरोध प्रदर्शन शुरू हो गए थे.

कमलेश तिवारी की वजह से समाज फैले सांप्रदायिक तनाव की वजह से फरवरी में यूपी सरकार ने तिवारी के खिलाफ रासुका लगा दिया था.

Loading...