गांधीनगर | बीएसऍफ़ जवान तेजबहादुर यादव द्वारा ख़राब खाने मिलने की शिकायती विडियो फेसबुक पर डालने के बाद , पुरे देश में इसको लेकर हंगामा हुआ. इसके बाद तो जैसे चलन सा चल निकला और सीआरपीऍफ़ से लेकर आर्मी तक के जवानों ने अपनी शिकायती विडियो फेसबुक पर डालनी शुरू कर दी. जवानों को ख़राब खाने मिलने की बात पर विपक्ष ने सरकार पर खूब निशाना साधा.

अंत में सेना अध्यक्ष बिपिन रावत का सामने आना पड़ा. उन्होंने जवानों से शिकायत दर्ज करने के लिए सोशल मीडिया का सहारा न लेने की अपील की. उन्होंने कहा की सेना के जवान अपनी शिकायत या तो शिकायत फोरम पर दर्ज करे या सीधे मुझसे आकर मिले. इसके बाद आर्मी ने शिकायत दर्ज करने के लिए एक व्हाट्सएप नम्बर भी जारी किया. वैसे तो यह मामला अब काफी हद तक ख़त्म हो गया था लेकिन अब सरहद पार भी इस खबर की गूंज सुनाई देने लगी है.

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

टाइम्स ऑफ़ इंडिया की खबर अनुसार भारत के लोगो के अलावा पाकिस्तानी सेना के जवानों तक तेजबहादुर की विडियो की खबर पहुंच गयी. बस फिर क्या था, पाकिस्तानी सैनिको को भी भारतीय सैनिको पर ताना मारने का मौका मिल गया. दरअसल गुजरात में भारत पाक सीमा पर दोनों देशो की सेना के कैंप लगे हुए है. इनमे काफी कैंप बिलकुल आमने सामने है.

इसलिए पाकिस्तानी सैनिक, भारतीय जवानों को ताना मार रहे है की अगर तुम्हारे पास खाना नही है तो इधर आ जाओ, हमारे पास खाना है. इस पर बीएसऍफ़ अधिकारी ने कहा की तेजबहादुर की विडियो वायरल होने से भारतीय सेना की छवि बिगड़ी है. यह भारतीय सेना के मनोबल के लिए ठीक नही है , जिसका फायदा आईएसआई और आतंकी संगठन उठा सकते है.

Loading...