Saturday, May 21, 2022

राष्ट्रपति का विरोध करने से पहले ही पुलिस ने 6 एएमयू छात्रों को नोटिस थमा दिया

- Advertisement -

अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय में 64 वें दीक्षांत समारोह में राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद के बतौर मुख्य अतिथि शामिल होने को लेकर विरोध कर रहे छात्रों को पुलिस ने पहले ही नोटिस थमा दिया.

अपर नगर मजिस्ट्रेट (द्वितीय), अलीगढ़ की कोर्ट की और से जारी हुए इस नोटिस में 6 छात्रों को अदालत में हाजिर होकर पांच लाख रुपये की रकम की दो ज़मानतें और इसी रकम का हाजिरी मुचलका उत्तर प्रदेश सरकार के पक्ष में भरने का आदेश दिया गया. साथ ही इन छात्रों से ज़मानत से एक साल के लिए शांति बनाए रखने की गारंटी ली जाएगी.

जिन छात्रों को ये नोटिस जारी किया है, उनके नाम हैं, मोहम्मद जुनैद अहमद, मोहम्मद नदीम अंसारी, अदनान आमिर, जयेद शेरवानी, राव फराज वारिस और इमरान ख़ान. नोटिस को लेकर छात्रों ने कहा कि जब हमने कोई अपराध नहीं किया है, तो हमें नोटिस कैसे भेजा जा सकता है.

अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी

छात्र इमरान ख़ान ने कहा कि हम अपने वकील के जरिए इस नोटिस का जवाब देंगे. हमारा विरोध राष्ट्रपति से नहीं है बल्कि हम राष्ट्रपति के साथ आ रहे संघ की विचारधारा वाले लोगों के यूनिवर्सिटी में दाखिल होने से विरोध कर रहे थे.

ध्यान रहे छात्र संगठनों का विरोध राष्ट्रपति के द्वारा पूर्व में मुस्लिमों और ईसाईयों के खिलाफ दिए गए बयान को लेकर था. जिसमे राष्ट्रपति ने मुस्लिमों और ईसाईयों (क्रिश्चन) को देश के लिए एलियन बताया था. उन्होंने कहा था कि ‘इस्लाम व ईसाईयत देश के लिए बाहरी हैं’

- Advertisement -

Hot Topics

Related Articles