अपने ही हेलिकॉप्टर को मार गिराया था, अब 5 सैन्य अधिकारी दोषी करार

6:29 pm Published by:-Hindi News

26 फरवरी 2019 को बालाकोट एयर स्ट्राइक के अगले दिन 27 फरवरी को पाकिस्तान के हवाई हमले के दौरान श्रीनगर में हुई हेलिकॉप्टर दुर्घटना के लिए भारतीय वायु सेना के पांच अधिकरियों को दोषी पाया गया है।

दरअसल, श्रीनगर स्थित 154 हेलीकॉप्टर यूनिट का एक Mi-17 वीएफ  श्रीनगर के नजदीक बडगाम में दुर्घटनाग्रस्त हो गया था।। इस हादसे में एक ग्रुप कैप्टन, दो विंग कमांडर और दो फ्लाइट लेफ्टिनेंट सहित छह लोगों की मौत हो गई थी। इस दौरान ये बात सामने आई थी कि हेलीकॉप्टर पर श्रीनगर में तैनात वायुसेना के ही एयर डिफेंस सिस्टम स्पाइडर ने गलती से वॉर कर दिया था।

कोर्ट ऑफ इंक्वायरी में दोषी ठहराए गए इन पांच अधिकारियों को इस पूरे हादसे के दौरान लापरवाही और सही प्रक्रियाओं का पालन नहीं करने सहित कई आरोपों का दोषी पाया गया है।

जांच के दौरान अधिकारियों ने बताया है कि जब चॉपर वापस कर रहा था, तो इस दौरान उन्होंने समझा की सामने से एक मिसाइल आ रही है। इसके चलते ये हादसा हुआ। यानी ये साफ हो गया है कि श्रीनगर का एमआई 17 वीएफ क्रैश होने के दौरान लापरवाही बरती गई थी।

दोषी पाए अधिकारियों में एक ग्रुप कैप्टन, दो विंग कमांडर और दो फ्लाइट लेफ्टिनेंट शामिल हैं। वायुसेना ने एयर कॉमोडोर रैंक के अधिकारी को इस मामले की जांच सौंपी थी। इस जांच में कुछ देरी भी हुई, क्योंकि बड़गाम में ग्रामीणों ने हेलिकॉप्टर का ब्लैक बॉक्स चुरा लिया था। हादसे के दौरान घटना स्थल पर गए सेना के वाहनों पर पत्थरबाजी भी की गई थी।

Loading...