उत्तर प्रदेश के मुजफ्फरनगर में खतौली के पास पुरी-हरिद्वार-कलिंगा उत्कल एक्सप्रेस के 14 डिब्बे पटरी से उतरने की वजह से 24 लोगों को मौत हुई है तो वहीँ 150 से ज्यादा लोग घायल हुए है. इस घटना को लेकर रेलवे की लापरवाही को बड़ी वजह माना जा रहा है.

ऐसे में अब विपक्ष ने मोदी सरकार को रेल हादसों को रिकार्ड बनाने वाली सरकार करार देते हुए निशाने पर लिया है. कांग्रेस ने कहा कि भाजपा वर्ष 2014 में सत्ता में आई, तब से अब तक 27 रेल हादसे हो चुके हैं, जिनमें 259 यात्रियों की जान गई और 899 घायल हुए.

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

कांग्रेस प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने ट्वीट किया, ‘मई 2014 में मोदी सरकार सत्ता में आई, तब से अब तक 27 रेल हादसे हो चुके हैं, जिनमें 259 यात्रियों की मौत हो गई और 899 घायल हो गए. सरकार कब जागेगी?

दुसरे ट्वीट में उन्होंने लिखा, ‘उत्कल एक्सप्रेस हादसे में मारे गए यात्रियों के परिवारों के प्रति गहरी शोक-संवेदना. निर्दोषों की मौत रेलवे की सुरक्षा पर गंभीर बादल.

सुरजेवाला ने बाद में मीडिया से बात करते हुए सवाल उठाय कि “अहम सवाल यह है कि हादसों को रोकने के लिए आप कदम क्या उठा रहे हैं. सरकार ने ऐसे क्या उपाय किए हैं, ताकि हादसे न हों. क्या पर्याप्त उपाय किए गए?”

Loading...