मुस्लिमों के खिलाफ 5 सालों में 250 से ज्यादा हेट क्रा*इम, अब विरोध करने का हक भी छिना जा रहा

11:45 am Published by:-Hindi News

केंद्र में मोदी सरकार की वापसी के बाद एक बार फिर से मुस्लिमों के खिलाफ हेट क्रा*इम एक के बाद एक मामले सामने आ रहे है। अगर बीते पाँच सालों के आकडे उठाए जाये तो मुस्लिमों के खिलाफ 250 से ज्यादा हेट क्रा*इम के मामले सामने आ चुके है।

इन मामलों के विरोध में जब मुस्लिम स्कॉलर्स की सर्वोच्च संस्था ऑल इंडिया तंजीम उलेमा-ए-इस्लाम ने आवाज उठाना चाही तो केंद्र सरकार ने इजाजत नहीं दी। संस्था नई दिल्ली स्थित इस्लामिक कल्चरल सेंटर में 11 जुलाई को प्रदर्शन करना चाहती थी।

संस्था ने बीती चार जुलाई को कॉन्फ्रेंस हॉल भी बुक कर लिया था और सभी जरूरी पेमेंट भी कर दी थी लेकिन शाम साढ़े पांच बजे सम्मेलन शुरू होने से कुछ घंटे पहले आयोजन की अनुमति नहीं दी गई।

आयोजन रद्द होने के बाद तंजीम के महासचिव, मौलाना शहाबुद्दीन रजवी ने कहा कि ‘हॉल की बुकिंग करते वक्त हमने बकायदा बुकिंग किस वजह से की जा रही है इसका उल्लेख किया। इस आयोजन में उलेमाओं और मुस्लिम स्कॉलर्स शांतिपूर्ण तरीके से एक जगह एकत्रित होते लेकिन इस्लामिक कल्चरल सेंटर ने आखिर वक्त में इस आयोजन के लिए हॉल के इस्तेमाल करने की अनुमति देने से इनकार कर दिया।’

उन्होंने आगे कहा ‘सरकार के इस कदम से अभिव्यक्ति की आजादी के संवैधानिक अधिकार का उल्लंघन हुआ है। सरकार देश में मॉब लिंचिंग की घटनाओं पर विफल है और ऐसे आयोजनों को रोक रही है जो इनके खिलाफ आवाज उठा रहे हैं।’

फैक्टचैकर (FactChecker) वेबसाइट के मुताबिक मोदी सरकार के बीते पांच साल के कार्यकाल में देश के अलग-अलग हिस्सों से 266 हेट क्राइम की घटानाएं सामने आई हैं। इनमें 14 मामले झारखंड के हैं।

खानदानी सलीक़ेदार परिवार में शादी करने के इच्छुक हैं तो पहले फ़ोटो देखें फिर अपनी पसंद के लड़के/लड़की को रिश्ता भेजें (उर्दू मॅट्रिमोनी - फ्री ) क्लिक करें