Monday, September 20, 2021

 

 

 

मोदी राज में 22000 करोड़पतियों ने छोड़ा देश, विदेशी मुल्कों को बनाया ठिकाना

- Advertisement -
- Advertisement -

तेजी से बढ़ती अर्थव्यवस्थाओं में शुमार भारत से अमीरों के देश छोडने का जारी है। एक रिपोर्ट के अनुसार,पिछले साल देश के 5000 उच्च संपत्ति वाले व्यक्तियों ने देश छोड़ दिया और किसी अन्य देश को अपना ठिकाना बना लिया है। वहीं पिछले 5 सालों की बात करें तो पता चला है कि 22,000 करोड़पति इस दौरान भारत छोड़कर अन्य देशों में बस गए हैं।

इकोनॉमिक टाइम्स की एक खबर के अनुसार, बीते साल अमीरों के देश छोड़ने के मामले में भारत तीसरे स्थान पर रहा। “अफ्रेशिया बैंक एंड रिसर्च फर्म न्यू वर्ल्ड वेल्थ” ने “ग्लोबल वेल्थ माइग्रेशन रिव्यू, 2019” नाम से यह रिपोर्ट जारी की है। रिपोर्ट के अनुसार, साल 2018 में जहां 5000 करोड़पति लोगों ने भारत छोड़ दिया। वहीं साल 2017 में यह आंकड़ा 7000 था। साल 2016 और 2015 में आंकड़ा क्रमशः 6000 और 4000 रहा।

ब्रिटेन करोड़पति लोगों का पसंदीदा देश हुआ करता था, लेकिन बीते साल ब्रिटेन से भी बड़ी संख्या में करोड़पति लोगों का पलायन हुआ। हालांकि यह भारत के मुकाबले कम रहा। दरअसल ब्रिटेन में ब्रेग्जिट के कारण इन दिनों उथल-पुथल का दौर चल रहा है, जिसके चलते कई बिजनेसमैन ब्रिटेन छोड़ चुके हैं।

भारत में पिछले साल जितने करोड़पति लोगों ने देश छोड़ा, वह देश के कुल करोड़पतियों की कुल संख्या का दो फीसदी है। पैसे वाले लोगों के देश छोड़ने के मामले में पिछले साल चीन पहले नंबर पर रहा। दरअसल अमेरिका से जारी ट्रेड वार के चलते चीन की अर्थव्यवस्था में सुस्ती का दौर चल रहा है। इस कारण भी वहां के पैसे वाले लोग दूसरे देशों में अपना ठिकाना बना रहे हैं।

चीन के बाद रुस के करोड़पतियों ने सबसे ज्यादा संख्या में देश छोड़ा है। इसके बाद भारत का नंबर आता है। वहीं दुनियाभर से करोड़पति जिन देशों का रुख कर रहे हैं, उनमें अमेरिका और ऑस्ट्रेलिया पसंदीदा देशों में शुमार हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Hot Topics

Related Articles