Friday, September 17, 2021

 

 

 

भोपाल में IAS की कोचिंग कर रही 19 वर्षीय लड़की के साथ गैंगरेप, 24 घंटे बाद पुलिस ने दर्ज की एफआईआर

- Advertisement -
- Advertisement -

rape11 1

भोपाल | हाल ही में मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान का एक बयान काफी सुर्खियों में रहा. उन्होंने अपने अमेरिका दौरे के दौरान कहा की मध्य प्रदेश की सड़के अमेरिका से बेहतर है. यही नही गुरुवार को उन्होंने मध्य प्रदेश को अमेरिका और इंग्लैंड से भी बेहतर करार दिया. हालाँकि इसका क्या आधार है यह केवल शिवराज जी ही बता सकते है. क्योकि जमीनी स्तर पर दोनों ही बाते हकीकत के भी करीब नजर नही आती.

सडको के ऊपर तो कई टीवी न्यूज़ चैनल ने शिवराज शासन की पोल खोल दी है, रही बात कानून व्यवस्था की तो मंगलवार को ही हुई एक घटना ने मध्य प्रदेश की कानून व्यवस्था की पोल खोल कर रख दी. यहाँ एक बलात्कार पीडिता के परिजनों को एफआईआर दर्जा कराने के लिए 24 घंटे तक पुलिस स्टेशन के चक्कर काटने पड़े. मीडिया रिपोर्ट के अनुसार राज्य की राजधानी में IAS की कोचिंग ले रही 19 वर्षीय लड़की के साथ चार लोग ने पहले गैंग रेप किया और बाद में उसे बदहवास हालात में छोड़कर फरार हो गए.

इस शर्मनाक घटना के बाद पुलिस ने जो पीड़ित और पीडिता के परिवार के साथ किया वो और भी शर्मनाक है. पुलिस ने एफआईआर लिखने के नाम पर पीडिता के परिवार को कई घंटो तक घुमाया. स्थानीय मीडिया के मुताबिक, आरोप है कि जब बेटी के साथ हुई घटना की रिपोर्ट दर्ज कराने के लिए परिजन भोपाल पुलिस के पास पहुंची तो उन्हें एक-दूसरे थाने का मामला बताकर चलता कर दिया गया. बाद में जीआरपी ने पीडिता का मेडिकल कराकर केस दर्ज किया.

मिली जानकारी के अनुसार 31 अक्टूबर को रात 10 बजे महाराणा प्रताप नगर स्थित कोचिंग क्लास से छात्रा पैदल अपने घर लौट रही थी. तभी रेलवे लाइन के पास बदमाशों ने उसे अगुवा कर लिया. इसके बाद बदमाश छात्रा को रेल लाइन की पुलिया के नीचे ले गए और वहां उसके साथ सामूहिक बलात्कार किया गया. बाद में आरोपी लड़की को बेहोशी की हालत में छोड़ फरार हो गए. फ़िलहाल पुलिस ने चार आरोपियों को गिरफ्तार किया है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Hot Topics

Related Articles