Thursday, July 29, 2021

 

 

 

विशाखापटनम में जहरीली गैस लीक होने से अब तक 13 की मौत

- Advertisement -
- Advertisement -

आंध्र प्रदेश के विशाखापटनम में एलजी पॉलिमर्स प्लांट से गुरुवार को केमिकल गैस लीक होने के कारण कम से कम 13 लोगों की मौत हो गई। इस हादसे के बाद 800 लोगों को अस्पताल में भर्ती कराया गया।

ग्रेटर विशाखापटनम म्यूनिसिपल कॉर्पोरेशन के कमिश्नर श्रीजाना गुमाला ने ट्विट कर बताया, ”सैकड़ों लोगों के भीतर सांस के ज़रिए यह गैस चली गई है। इससे लोग या तो बेहोशी की हालत में हैं या फिर सांस लेने में समस्या हो रही है।” वहीं किंग जॉर्ज अस्पताल के डॉक्टरों का कहना है कि 86 लोगों को वेन्टिलेटर पर रखा गया है।

विशाखापटनम के पुलिस कमिश्नर आरके मीना ने बीबीसी तेलुगू को बताया है कि तीन लोगों की मौत प्लांट के पास हुई और पाँच की मौत किंग जॉर्ज अस्पताल में इलाज के दौरान हुई। अब तक गैस रिसाव शुरू होने की वजह पता नहीं चली है। प्लांट के मैनेजमेंट के ख़िलाफ़ एफ़आईआर दर्ज कर ली गई है।

आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री वाईएस जगनमोहन रेड्डी ने कहा है कि गैस लीक हादसे में मृतकों के परिजनों को एक-एक करोड़ रुपये का मुआवजा और वेंटिलेटर पर गए मरीजों को 10 लाख रुपये की धनराशि मुआवजे के तौर पर दी जाएगी। इसके अलावा हादसे में घायलों को नकद सहायता दी जाएगी।

इधर आंध्र प्रदेश हाई कोर्ट ने मामले का संज्ञान लेते हुए केंद्र सरकार और राज्य सरकार को नोटिस जारी कर सवाल किया है कि रिहाइशी इलाक़े में प्लांट बनाने की इजाज़त कैसे दी गई। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भी दुर्घटना पर ट्वीट कर कहा, “एमएचए और एनडीएमए के अधिकारियों से बात हुई है जो इस दुर्घटना पर नज़र बनाए हुए हैं। मैं विशाखापटनम में सभी के सुरक्षित रहने और उनकी बेहतरी की कामना करता हूँ।”

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Hot Topics

Related Articles