आंध्र प्रदेश पुलिस की ओर से शुरू हुई नेवी हनी ट्रैप केस में आंध्र प्रदेश पुलिस की ओर से शुरू हुई नेवी हनी ट्रैप केस 11 नौसैनिकों समेत 13 लोगों की गिरफ्तारी हुई है। इन पर पाकिस्तान की खुफिया एजेंसी आईएसआई को जानकारी को भेजने का आरोप है।

बताया जा रहा है कि अब तक जिन नौसैनिकों को गिरफ्तार किया गया है, उनकी पोस्टिंग आंध्र प्रदेश के विशाखापत्तनम के अलावा कर्नाटक के कारवार और महाराष्ट्र के मुंबई बेस पर थी। इससे पहले भी आंध्र प्रदेश पुलिस, नेवल इंटेलिजेंस और सेंट्रल इंटेलिजेंस एजेंसियों के एक संयुक्त ऑपरेशन में नेवी के सात कर्मचारियों को गिरफ्तार किया था।

गौरतलब है कि सोशल मीडिया के दुरूपयोग के कारण भारतीय नेवी ने ड्यूटी के दौरान स्मार्ट फोन के इस्तेमाल पर रोक लगाई हुई है। नेवी में सिर्फ 2जी फोन के इस्तेमाल की इजाजत है। भारतीय सेना और एयर फोर्स में भी ऐसा ही बैन है। बावजूद इसके ऐसे मामले सामने आ रहे हैं।

नौसेना के सूत्रों ने बताया कि स्मार्ट फोन के उपयोग पर अचानक लगे प्रतिबंध के कारण नौसैनिकों के लिए अपने परिजनों से संपर्क करना और अन्य डिजिटल कार्यों को करना मुश्किल हो गया है। इन समस्याओं को देखते हुए अब नौसेना ने 2 जी कनेक्टिविटी वाले पुरानी प्रौद्योगिकी वाले मोबाइल फोन के उपयोग की अनुमति दे दी है।

विशेषज्ञों को लगता है कि यह फोन सीमित उपयोग का है और इसे इंटरसेप्ट भी किया जा सकता है। हालांकि, नेवी के सूत्रों ने कहा कि स्मार्टफोन और सोशल मीडिया पर पहचान उजागर करने को लेकर प्रतिबंध लंबे समय से मौजूद हैं। इन्हें बस सख्ती से लागू कराया जा रहा है।

Loading...
लड़के/लड़कियों के फोटो देखकर पसंद करें फिर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें

 

विज्ञापन