sna

सनातन संस्था के आतंकी वैभव राउत के घर से शुक्रवार को मुंबई के निकट नालासोपारा से भारी मात्रा में विस्फोटक की बरमदगी के बाद महाराष्ट्र आतंकवाद निरोधक दस्ते (एटीएस) को बड़ी कामयाबी हासिल हुई है। एटीएस ने आतंकी वैभव राउत के घर से अब 10 पिस्टल बरामद की है। इससे पहले शनिवार को पुणे से भी हथियार बरामद हुए थे।

अधिकारी ने बताया, “उसके घर से 10 पिस्टल बरामद किये गये थे, ये बरामदगी गिरफ्तार तीन लोगों से पूछताछ के आधार पर हुई है, इन पिस्टल की बनावट से लगता है कि इन्हें उत्तर प्रदेश से हासिल किया गया है, हालांकि हम लोग जांच कर रहे है कि ये हथियार इनलोगों ने कहीं से हासिल किये हैं, या फिर खुद बनाये हैं।”

अधिकारी ने बताया कि अब ये जांच की जा रही कि क्या गोंधालेकर ने हथियार बनाने वाली यूनिट बना ली थी, या फिर आरोपी दूसरे राज्यों के हथियार आपूर्तिकर्ता से संपर्क साध लिये थे, जिन्होंने इन्हें हथियारों का जखीरा पहुंचाने में मदद की।साथ ही विरेंद्र तावड़े और सनातन संस्था के सदस्य सारंग अकोलकर के ई मेल खंगाले जा रहे है। ई मेल 2008 से 2013 के बीच के है।

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

sana1

सीबीआई अधिकारी ने कहा, “लंबे पूछताछ के दौरान तावड़े ने कहा कि ईमेल में कोड वर्ड्स के इस्तेमाल किये गये थे, और योजना हिन्दू राष्ट्र के निर्माण के लिए 15 हजार सेवक तैयार करने की थी।” बता दें कि तावड़े को नरेंद्र दाभोलकर और गोविंद पंसारे की हत्या में गिरफ्तार किया गया था।

इस पूरे मामले को लेकर मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस का कहना है कि बहुत सारी खुफिया सूचनाओं के बाद एटीएस ने यह ऑपरेशन शुरू किया है। फडणवीस ने कहा, ‘आरोपियों के पास से जो सामग्री बरामद की गई है वह बेहद खतरनाक है। किसी भी आतंकी या असामाजिक गतिविधि के लिए इसका दुरुपयोग हो सकता था। ऐसे में फिलहाल जांच जारी रहेगी और इसी जांच के आधार पर हम अपने उद्देश्य और लक्ष्य तक पहुंचेंगे।

Loading...