जैसा की दुनियाभर को मालूम है फिलिस्तीन पर 1948 से शुरू हुआ यहूदी अतिक्रमण धीरे धीरे सम्पूर्ण फिलिस्तीन को इजराइल बनाने में अग्रसर है. भारत सहित अधिकतर देश हमेशा से इजराइल की इस नीति का विरोध करते आए है. इजराइल के इस अतिक्रमण के कारण अब तक लगभग 7 लाख फिलिस्तिनियो को उनके से या तो भगा दिया गया है या फिर मज़बूरी में अपने घर छोड़कर जाने पर मजबूर हो गए है.

जहाँ अधिकतर देश इजराइल को एक स्वतंत्र देश के रूप में मान्यता नही देते वहीँ रीबोक जैसी जूता बनाने वाली कंपनी इजराइल का 68वां स्वतंत्रा दिवस मना रही है.जिसे लेकर कंपनी ने एक जूतों की एक नयी सीरीज बनाई है. मीडिया में रीबोक के इस कदम की ज़ोरदार आलोचना हो रही है.

इजराइल के अवैध 68 वां स्वतंत्रा दिवस के उपलक्ष में बनाया गया जूता, इस पर आप आसानी से Israel68 लिखा देख सकते है.

गौरतलब है की इजराइल की अवैध सैनिक कार्यवाही से दिन प्रतिदिन फिलिस्तीन की जगह इजराइल बनता जा रहा है वहीँ फिलिस्तीनी जनता अपने ही घरों में रिफ्यूजी की ज़िन्दगी बिताने पर मजबूर है.

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

नीचे दिए गए नक़्शे में आप देख सकते है 1947 में जहाँ फिलिस्तीन में यहूदी कॉलोनियां बसाई गयी थी उन्होंने कैसे धीरे धीरे सम्पूर्ण फिलिस्तीन पर कब्ज़ा कर उसे इजराइल बना दिया.

Loading...