तुल्कर्म में रहने वाले फिलिस्तीनी मूल के फैसल सिद्की अल यासीन और इल्हाम यासीन के घर जन्म 31 अगस्त 1970 को एक बेटी का जन्म हुआ. दम्पति ने बेटी का नाम रखा रानिया अल यासीन.

 

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

रानिया की शिक्षा-दीक्षा कुवैत के जबरिया में न्यू इंग्लिश स्कूल में हुई. उन्होंने काहिरा में अमेरिकन यूनिवर्सिटी से बिजनेस एडमिनिस्ट्रेशन की डिग्री प्राप्त की.

 

ग्रेजुएशन के बाद उन्होंने एप्पल इंक के साथ काम किया. फिर उन्होंने सिटीबैंक के साथ भी काम किया.

 

आज रानिय जॉर्डन के राजा अब्दुल्लाह बिन हुसैन की पत्नी और जॉर्डन की रानी रानिया अब्दुल्लाह के नाम से जानी जाती हैं.

 

उनके दो बेटे और दो बेटियां हैं. रानिया अब्दुल्लाह बेपनाह खूबसूरती और नफासत से भरी शख्सियत हैं.

वे जितनी खूबसूरत हैं, उतनी ही खूबसीरत भी हैं.

 

वह स्वास्थ्य, शिक्षा, समुदाय सशक्तिकरण आदि बहुत से क्षेत्रों में बेहतरीन काम कर रही हैं.

 

वह युवाओं के लिए भी कार्य करती रही हैं. सरकार द्वारा उन्हें बहुत से खिताबों से नवाज़ा गया है.

 

 

रानिया सोशल मीडिया की बेहद शौक़ीन तो हैं ही, वे सोशल मीडिया पर बेहद लोकप्रिय भी हैं.

 

रानिया ने इस्लामिक महिलाओं के लिए हिजाब पहनने की अनिवार्यता को गलत माना.

 

उनका कहना है कि अगर कोई महिला स्वेच्छा से चाहे तो बेशक हिजाब पहने.

 

वो खुद भी कम ही जगहों पर सिर ढके नज़र आई हैं.

 

समाजसेवा में अग्रणी, भरपूर सौन्दर्य की मलिका रानी रानिया अब्दुल्लाह वास्तव में एक बेहतरीन शख्सियत हैं.

 

Loading...