नई दिल्ली: पुलिस के लाठी चार्ज और आंसू गैस के गोले के बीच जामिया मिल्लिया यूनिवर्सिटी के छात्रों ने नागरिकता संशोधन कानून के खिलाफ अपने बगावत का परचम बुलंद किए हुए रखा। इस दौरान कई छात्रों को अस्पताल तो कई को जेल जाना पड़ा।

इस प्रदर्शन के बीच की एक तस्वीर वायरल हो रही है। जिसमे जारी विरोध-प्रदर्शन के बीच जामिया छात्र नमाज अदा कर रहे है। सोशल मीडिया पर ये तस्वीर वायरल हो रही है। बता दें कि पुलिस ने जामिया के छात्रों के मार्च को संसद तक रोकने के लिए लाठी चार्ज किया।

CAB के विरुद्ध प्रदर्शन में गिरफ्तार जामिया के छात्र पुलिस थाना में नमाज़ पढ़ते हुए ♥️आ गया ऐन लड़ाई में अगर वक़्ते नमाज़ क़िबला रु होके ज़मीं बोस हुई क़ौमे हिजाज़. – अल्लामा इक़बालMd Iqbal

Hashmi Zameem ಅವರಿಂದ ಈ ದಿನದಂದು ಪೋಸ್ಟ್ ಮಾಡಲಾಗಿದೆ ಶುಕ್ರವಾರ, ಡಿಸೆಂಬರ್ 13, 2019

इसके अलावा पुलिस ने छात्रों पर आंसू गैस के गोले भी दागे। कई छात्रों को हिरासत में भी लिया गया है। दिल्ली के जवाहर लाल नेहरू यूनिवर्सिटी छात्र संघ ने नागरिकता कानून के विरोध में प्रदर्शन किया।

उल्लेखनीय है कि इस बिल के विरोध को देखते हुए जापान के पीएम शिंजो आबे और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की 15-16 दिसंबर को गुवाहाटी में होने वाली मुलाकात टाल दी गई है। गृह मंत्री अमित शाह का शिलॉन्ग दौरा भी रद्द कर दिया गया है। उन्हें रविवार को यहां एक कार्यक्रम में शामिल होना था।

नागरिकता कानून के विरोध में असम समेत पूर्वोत्तर के त्रिपुरा, नगालैंड, मेघालय और मणिपुर में छात्र संगठनों और वाम दलों ने विरोध शुरू किया था। इस दौरान आगजनी, तोड़फोड़ की कई घटनाएं हुईं। गुवाहाटी में पुलिस फायरिंग में 3 लोगों की जान चली गई। डिब्रूगढ़ में भाजपा विधायक के घर और रेलवे स्टेशन में आग लगा दी गई थी।

Loading...
अपने 2-3 वर्ष के शिशु के लिए अल्फाबेट, नंबर एंड्राइड गेम इनस्टॉल करें Kids Piano
विज्ञापन