Saturday, December 4, 2021

एक कॉलगर्ल सप्लाई करने पर सोनू पंजाबन को मिलते थे 25 हज़ार रूपए, चार्जशीट दाखिल

- Advertisement -

देश में वैध तरीके से ज्यादा अवैध तरीके से व्यापार किया जा रहा है, इनमें से अवैध तरीके से धंधा लगाने वालों में मशहूर नाम है सोनू पंजाबन का. यह अवैध धंधा तेज़ी से बढ़ रहा है. जैसा दाम, बदले में वैसी ही लड़की. जैसी लड़की और ग्राहक वैसा ही इलाका और भोग-विलास की सुविधा.

सेक्स का यह काला धंधा झुग्गी-झोपड़ी से लेकर आलीशान इमारतों (कोठियों) तक इस घिनौने धंधे के पांव पसर चुके हैं. झुग्गी-झोपड़ी गली-मोहल्ले में बदनाम कारोबार से जुड़ी लड़की या औरत अगर कम कीमत में मिल जाती है तो कोठी-फार्म हाउस में कीमत दो हजार से पचास हजार-एक लाख तक भी हो सकती है. यह कीमत लड़की की उम्र और खूबसूरती पर निउर्भर करती है.

क्राइम ब्रांच ने सोनू पंजाबन उर्फ गीता अरोड़ा के खिलाफ 16 साल की नाबालिग के अपहरण और ट्रैफिकिंग मामले में से चार्जशीट फाइल कर दी है. कभी दिल्ली में सेक्स ट्रेड धंधे की क्वीन मानी जानेवाली सोनू ने अपना बिजनस जेल से बाहर आने के बाद बहुत संगठित तरीके से चलाना शुरू कर दिया था. पुलिस का कहना है कि आनेवाले समय में इस केस में और गिरफ्तारियां हो सकती हैं.

मिल रही रिपोर्ट के मुताबिक, पुलिस ने सोनू के करीबी संदीप पर भी चार्जशीट दायर की है. संदीप पर सोनू के कहने पर नाबालिग लड़की की ट्रैफिकिंग का आरोप है. जॉइंट कमिश्नर (क्राइम) आलोक कुमार ने केस के बारे में यह जानकारी दी। पुलिस के मुताबिक, आईपीसी की विभिन्न धाराओं में आरोपियों पर रेप, आपराधिक साजिश करने और नाबालिग को जबरन देह व्यापार में धकेलने का आरोप है.

वौइस् हिंदी को मिली जानकारी के मुताबिक,पुलिस ने बताया, ‘सोनू ने पहले केस के बाद काफी सबक लिया और उसने बहुत सधे हुए व्यवस्थित तरीके से अपने धंधे को आगे बढ़ाया. अब वह फ्रीलांस कॉलगर्ल्स को अफने क्लाइंट के पास भेजने लगी थी और वह उनसे वॉट्सऐप मेसेज और विडियो कॉल के जरिए संपर्क में रहती थी. लड़कियों को क्लाइंट के पास भेजने के लिए वह 30 फीसदी पैसा कमिशन के तौर पर लेती थी जो कि अमूमन 25 हजार के करीब होता था. आम तौर पर यह लेन-देन ई वॉलेट और मोबाइल वॉलेट के जरिए होता था.’

- Advertisement -

[wptelegram-join-channel]

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Hot Topics

Related Articles