विश्व विख्यात नॉनवेज ब्रॉड केएफसी रेस्टोरेंट के चिकन को दरगाह आला हजरत ने हराम करार दिया हैं. सोशल मीडिया पर कंपनी द्वारा रेस्टोरेंटों में हलाल नॉनवेज न देने के मामला सामने आने के बाद उलेमा ने यह फतवा जारी कर मुसलमानों को केएफसी का नॉनवेज खाने से बचने की हिदायत दी है.

दरगाह आला हजरत के मुफ्ती सलीम नूरी ने बताया कि जानकारी मिली है कि केएफसी में नॉनवेज के नाम पर मुसलमानों को बिना हलाल का चिकन दिया जा रहा है. शरीयत के हिसाब से ऐसे नॉनवेज खाना हराम है. इसलिए मुसलमानों को ऐसे नॉनवेज से बचना चाहिए.

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

गौरतलब रहें कि 6 अगस्त को केएफसी के खिलाफ भोपाल के जर्नलिस्ट अनम इब्राहीम ने केएफसी द्वारा हलाल फ़ूड के नाम पर लोगो से हो रही धोखाधडी के आरोप में केस दर्ज कराया था.

शिकायत में उन्होंने कहा था कि केएफसी हलाल चिकन का प्रमाण पत्र दिखा कर गेर हलाल चिकेन खिला रहा हैं. ध्यान देने योग्य बात ये हैं कि इस्लाम में गेर हलाल नॉनवेज को हराम बताया गया हैं.