Saturday, May 15, 2021

बीफ रखने के शक में स्टेशन पर मुस्लिम को पीटा, बैग की तलाशी भी ली

- Advertisement -
भोपाल. हरदा जिले के खिरकिया रेलवे स्टेशन पर कुछ लोगों ने मुस्लिम कपल के बैग की तलाशी लेने की कोशिश की। जब कपल ने इसका विरोध किया तो उनके साथ मारपीट की गई। आरोपियों को शक था कि कपल के बैग में बीफ है।
 beef_1452824276
कौन थे मारपीट करने वाले लोग…
बैग की तलाशी लेने की कोशिश और मारपीट करने वाले सात लोग गौरक्षा समिति के मेंबर्स थे।
– बुधवार को हुई इस घटना की पुलिस ने भी पुष्टि की है।
क्या है मामला?
– पुलिस के मुताबिक, गौरक्षा समिति के मेंबर्स का दावा था कि उन्हें कुशीनगर एक्सप्रेस में मुस्लिम कपल के पास बीफ होने की सूचना मिली थी।
– खिरकिया स्टेशन पर समिति के कुछ लोग जनरल कम्पार्टमेंट में चढ़े। उन्होंने कपल के बैग की तलाशी लेने की कोशिश की। विरोध किए जाने पर हमला किया।
– पुलिस के मुताबिक लैब टेस्ट में यह साबित हुआ कि यह भैंस का मीट था। दो लोगों को गिरफ्तार किया गया। इनके नाम हेमंत राजपूत और संतोष हैं।
– झगड़े के आरोप में कपल के रिश्तेदार समेत नौ लोगों को गिरफ्तार किया गया। इन सभी को बाद में बेल मिल गई।
क्या कहा कपल ने?
– मोहम्मद हुसैन ने बताया कि वे पत्नी नसीमा के साथ हैदराबाद से हरदा लौट रहे थे। हुसैन के मुताबिक, आरोपियों ने जब बैग की तलाशी लेने की कोशिश की तो पत्नी ने विरोध किया।
– हुसैन ने कहा, “हम भारत में रहते हैं और हमें पता है कि क्या सही और क्या गलत है। हम केवल बकरे का मीट खाते हैं। जिस बैग में मीट था वो हमारा नहीं था। पुलिस ने पत्नी को बचाया।”
– हुसैन ने कहा कि मुझे पीटा गया। पत्नी से बदसलूकी की गई। मामला सामने आने के बाद इस कपल को खंडवा में एक रिश्तेदार के यहां रात बितानी पड़ी।
क्या कहना है पुलिस का?
– खिरकिया पुलिस के एएसआई के. रिछारिया ने कहा कि लोकल लैब में बैग की जांच कराई गई। इसमें साबित हुआ की बैग में भैंस का मीट था।
– इटरासी के आरपीएफ इन्चार्ज डीके. जोशी ने कहा कि हेमंत और संतोष को जेल भेज दिया गया है। पांच लोगों की तलाश जारी है।
– हरदा के एमएलए रामकिशोर डोंगरे ने कहा कि बजरंग दल और वीएचपी के प्रेशर की वजह से पुलिस ने कपल के रिश्तेदारों के खिलाफ केस दर्ज किया है। डोंगरे ने कहा, “पहले तो कपल को परेशान किया गया। इसके बाद उनके ही रिश्तेदारों के खिलाफ केस दर्ज कर लिया गया।”

गोमांस को लेकर पिछले कुछ महीनों से जारी हैं विवाद

– गोमांस रखने के शक में अक्टूबर में यूपी के दादरी में एक शख्स अखलाक की हत्या और कन्नड़ लेखक कलबुर्गी के मर्डर के बाद इन्टॉलरेंस का मुद्दा भड़का और अवॉर्ड वापसी की शुरुआत हुई। बाद में जांच में पता चला कि अखलाक के घर में गोमांस नहीं, मटन था।
– नवंबर जम्मू-कश्मीर में विधायक इंजीनियर राशिद ने बीफ पार्टी दी तो कुछ विधायकों ने उनके साथ मारपीट कर दी।
– बीजेपी की सरकार वाले राजस्थान की राजधानी जयपुर में एक आर्ट समिट में आर्टिस्ट सिद्धार्थ कलवार के साथ मारपीट हुई। कलवार ने गाय के पुतले को गुब्बारे के सहारे हवा में लटकाया था। पुलिस भी उन्हें अरेस्ट कर थाने ले गई।
– दिसंबर में हैदराबाद की उस्‍मानिया यूनिवर्सिटी में बीफ फेस्टिवल और पोर्क पार्टी को लेकर दो गुट आमने-सामने हो गए। एक स्टूडेंट्स संगठन ने बीफ फेस्टिवल का एलान किया। दूसरे ग्रुप ने उसी दिन पोर्क पार्टी देने की बात कही। इस पर यूनिवर्सिटी में तनाव का माहौल रहा।
– इन घटनाओं को भी इन्टॉलरेंस से जोड़कर देखा गया।
साभार http://www.bhaskar.com/

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Hot Topics

Related Articles