Thursday, October 21, 2021

 

 

 

‘गुड मॉर्निंग’ लिखने पर फिलिस्तीनी युवक को इस्राइली पुलिस ने गिरफ्तार किया

- Advertisement -
- Advertisement -

सांकेतिक फोटो

जेरुसलम – फिलिस्तीनियों की ज़िन्दगी इसराइल ने नरक बना दी है उनकी दिनचर्या से लेकर बाहर निकलने तक पर निगरानी रखी जाती है. यहाँ तक की उनके फेसबुक अकाउंट भी पुलिस की निगरानी में रहते हैं. जिसे लेकर काफी फिलिस्तीनी अपनी बात खुलकर भी नही रख पाते.

एक फिलिस्तीनी शख्स को इस्राइली पुलिस ने गिरफ्तार किया है, उसकी गिरफ़्तारी फेसबुक पर ‘गुड मोर्निंग’ लिखने के कारण हुई है.

क्या था मामला 

पुलिस ने फिलस्तीनियों की निगरानी करने के लिए उनके फेसबुक अकाउंट को सॉफ्टवेर से जांच करती रहती है, ऐसे में एक फिलिस्तीनी ने जब फेसबुक पर अरबी भाषा में ‘गुड मोर्निंग‘ लिखा तो सॉफ्टवेर ने उसे ‘अटैक देंम‘ ( उनपर हमला करो) अनुवादित किया, जिससे जांच एजेंसियों के होश उड़ गये और तुरंत युक्त शख्स को गिरफ्तार कर लिया गया.

इस्राइली समाचार पोर्टल हार्त्ज़ में प्राकशित खबर के अनुसार पुलिस ने तेज़ी दिखाते हुए फिलिस्तीनी व्यक्ति को गिरफ्तार कर लिया लेकिन जब उन्हें सूचना मिली की सॉफ्टवेर की गलती के कारण ‘गलत’ गिरफ़्तारी हो गयी हिया तो उन्होंने उसे छोड़ दिया. फिलिस्तीनी शख्श ने अपनी एक फोटो पोस्ट करते हुए गुड मोर्निंग लिखा था, उस फोटो में वह व्यक्ति बुलडोज़र के नज़दीक खड़ा है जहाँ वो काम करता है.

गौरतलब है की फेसबुक पर एक आप्शन है जो किसी अन्य भाषा में लिखी गयी पोस्ट को अनुवाद कर देता है, फिलिस्तीनी व्यक्ति ने अरबी में गुड मोर्निंग लिखा जिसे सॉफ्टवेर से हिब्रू में अनुवादित किया गया जिसका मतलब ‘ उन्हें चोट पहुँचाओ’ निकाला गया फिर उसे इंग्लिश में ट्रांसलेट किया गया तो सॉफ्टवेर ने ‘उनपर हमला करो’ से अनुवाद किया. इसी वजह से फिलिस्तीनी व्यक्ति को गिरफ्तार कर लिया गया.

पुलिस ने बताया की पूछताछ के लिए उस व्यक्ति को हिरासत में लिया गया था जिसे कुछ घंटे बाद ही छोड़ दिया गया तथा उसकी फेसबुक पोस्ट को डिलीट करवा दिया गया.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Hot Topics

Related Articles