आयतुल्लाह ख़ामेनेई ने कहाः हमें फ़िलिस्तीनी जनता के राजनीतिक समर्थन के प्रति कभी लापरवाह नहीं होना चाहिए, यह आज की दुनिया में एक उच्च प्राथमिकता है।

आयतुल्लाह सैयद अली ख़ामेनेई ने «फ़िलिस्तीनी इन्तिफ़ादा» के समर्थन में आयोजित छठे अंतरराष्ट्रीय सम्मेलन को संबोधित करते हुए कहा कि हमें फ़िलिस्तीनी जनता के राजनीतिक समर्थन के प्रति कभी लापरवाह नहीं होना चाहिए, यह आज की दुनिया में एक उच्च प्राथमिकता है।

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

मुस्लिम और स्वतंत्रता पसंद लोग हर तरीके और सलीके से एक उद्देश्य की खातिर एक साथ हो सकते हैं और वे लक्ष्य, फ़िलिस्तीन और उसकी स्वतंत्रता के लिए प्रयास करना है।

ज़ायोनियों के पतन के लक्षण प्रकट होने और उसके प्रमुख समर्थक अमरीका के कमज़ोर होने से स्पष्ट रूप से लग रहा है कि दुनिया धीरे धीरे ज़ायोनियों के अवैध और क्रूर कदम के विरुद्ध हो रही है, लेकिन अब तक विश्व समुदाय और क्षेत्रीय देशों ने इस मानवीय मुद्दे में अपनी जिम्मेदारी को पूरा नहीं किया है।

 

 

Loading...