सोशल मीडिया पर इस्लाम और नबी-करीम (सल्ल.) की शान में गुस्थाकी को रोकने के लिए पाकिस्तान 21 मुस्लिम देशों के साथ मिलकर एक संयुक्त रणनीति पर काम कर रहा हैं.

इस मामलें में इस्लामाबाद में हुई बैठक में 21 मुस्लिम देशों के राजदूतों ने हिस्सा लिया. जिसकी मेजबानी पाकिस्तान के गृहमंत्री निसार अली खान ने खुद की. इस बैठक का लक्ष्य इस्लाम-विरोधी ऑनलाइन सामग्री से निपटने के लिए नीति बनाना हैं.

बैठक में सभी के बीच आम सहमति है कि पूरा मुसलमान उमाह (संप्रदाय) धर्म और पैगम्बर की शुचिता और सम्मान की सुरक्षा करने को एकजुट है. बैठक में यह फैसला हुआ कि पाकिस्तान का विदेश मंत्रालय सभी कानूनी और तकनीकी पहलुओं से युक्त एक विस्तृत रणनीतिक मसौदा तैयार करके उसे सभी मुसलमान देशों के राजदूतों के साथ साझा करेगा. फिर राजदूत इस मसौदे को अपनी सरकारों के साथ साझा करेंगे ताकि भविष्य के लिए योजना बनायी जा सके.

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

इसके साथ ही अरब लीग के महासचिव के पास एक औपचारिक संदेश भेजकर सोशल मीडिया पर ईशनिंदा और कैसे यह पूरी दुनिया में मुसलमानों की भावनाओं को ठेस पहुंचा रहा है, इससे अवगत कराया जाएगा. बैठक में तय किया गया कि सभी मुसलमान देशों की प्रतिक्रिया मिलने पर इस मामले को संयुक्त राष्ट्र के स्तर पर भी उठाया जाएगा.

Loading...