काबुल प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कल सवा तीन बजे (12 फरवरी) अफगानिस्तान के राष्ट्रपति अशरफ गनी को ट्विटर पर जन्मदिन की बधाई दी थी। पीएम ने लिखा था, ‘जन्मदिन मुबारक को अशरफ गनी। आपकी लंबी उम्र, अच्छी सेहत और आनंदमय जीवन की कामना करता हूं।’ लेकिन उसी दिन अशरफ गनी ने साढ़े 10 बजे रात में इस ट्वीट के रिप्लाई में कहा, ‘शुक्रिया मिस्टर पीएम। हालांकि मेरा जन्मदिन 19 मई को है लेकिन फिर भी आपकी शुभकामना के लिए बहुत शुक्रिया।’

आखिर पीएम मोदी से यह गलती कैसे हो गई? अशरफ गनी के बताने के बाद भी कि उनका जन्मदिन 12 फरवरी को नहीं है, पीएम मोदी के ट्विटर हैंडल से ट्वीट डिलीट नहीं किया गया है। क्या ऐसा गूगल पर भरोसे के कारण हुआ। यदि आप गूगल में जाकर अशरफ गनी के जन्मदिन को सर्च करेंगे तो उनका जन्मदिन 12 फरवरी को ही है। इस हिसाब से मोदी सही हैं। (नवभारत टाइम्स)

मुस्लिम परिवार शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें

Loading...

विदेशों में धूम मचा रहा यह एंड्राइड गेम क्या आपने इनस्टॉल किया ?