Tuesday, May 17, 2022

हमें भारत की ज़रूरत है, हम भारत के साथ व्यापार खोलना चाहतें हैं – पाक पीएम के सलाहकार

- Advertisement -

पाकिस्तान की अर्थव्यवस्था में जहाँ उतार चढ़ाव का दौर जारी है वहीँ ऐसे में पाकिस्तान के पास जो सबसे नज़दीकी रास्ता बचता है वो यह की भारत से पुन: रोज़गार शुरू करे लेकिन पाकिस्तानी सरकार ऐसी राजनीतिक परिस्थितियों में फंसी हुई है की अगर वो भारत से रोज़गार शुरू करने की बात करती है तो उनके देश में इमरान खान के जनाधार पर फर्क पड़ने का खतरा मंडरा सकता है.

आपको बताते चलें की 2019 में जब भारत ने जम्मू कश्मीर से विशेष राज्य का दर्जा वापस लिया था तब से पकिस्तान ने भारत के साथ रोज़गार बंद किया हुआ है लेकिन भारत से व्यापार बंद करने पाकिस्तान के लिए गले में फंसी उस हड्डी की तरह हो गया है जो ना निगलते बन रही है और ना ही उगलते, ऐसे में सरकार के पास जो रास्ता बचता है वो यह की अपने ही देश में सीधे सरकार के मुंह से ना कहलवाकर सलाहकारों की जुबान से कहलवाओ. पाकिस्तान आजकल इसी रणनीति पर काम कर रहा है.

पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान के सलाहकार अब्दुल रजाक दाऊद ने भारत के साथ व्यापार फिर खोलने की वकालत की है. डॉन न्यूज’ अखबार की रिपोर्ट के अनुसार, ‘‘दाऊद ने कहा कि आज भारत के साथ व्यापार समय की जरूरत है.” दाऊद ने कहा, ‘‘जहां तक वाणिज्य मंत्रालय का सवाल है, हम भारत के साथ व्यापार चाहते हैं. जहां तक मेरे रुख का सवाल है, हम भारत के साथ व्यापार खोलना चाहते हैं.”

दाऊद कपड़ा, उद्योग, उत्पादन और निवेश पर प्रधानमंत्री के सलाहकार हैं.

खबरों में दाऊद के हवाले से कहा गया है, ‘‘भारत के साथ व्यापार सभी के लिए फायदेमंद है. विशेषरूप से पाकिस्तान के लिए. मैं इसके समर्थन में हूं.”

दाऊद के इस बयान के बाद पाकिस्तान-भारत द्विपक्षीय व्यापार संबंधों के आंशिक रूप से फिर खुलने की संभावना बनी है. पांच अगस्त, 2019 को भारत द्वारा जम्मू-कश्मीर से विशेष राज्य का दर्जा समाप्त किए जाने के बाद दोनों देशों के व्यापारिक संबंध निलंबित हैं.

- Advertisement -

Hot Topics

Related Articles