हुती विद्रोही और यमन सेना सऊदी अरब और उसके समर्थित गुटों पर भारी पड़ते हुए दिखाई दे रहे हैं. हुती विद्रोही और यमन सेना ने सऊदी अरब के नौसेना के एक युद्धपोत, को मिसाइल से शिकार बना कर नष्ट कर दिया.

यमनी सेना की इस कार्यवाही में 2 सऊदी सैनिक मारे गए और तीन अन्य घायल हो हुए हैं. इस बात को सऊदी सेना ने भी स्वीकार किया हैं. यमनी सेना ने कहा कि सऊदी नौसेना के युद्धपोत को उस समय तबाह किया जब वो  यमन के आवासीय क्षेत्रों को निशाना बनाने की कोशिश कर रहा था.

बयान में आगे कहा गया कि यमनी सेना ने पहले ही चेतावनी दी थी कि सऊदी समुद्र से देश के आवासीय क्षेत्रों को लक्ष्य बना रहा है जिसका भरपूर जवाब दिया जाएगा.

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

गौरतलब रहें कि सऊदी अरब और यमन के बीच शुरू हुए इस युद्ध में संयुक्त राष्ट्र की रिपोर्ट के अनुसार साल 2015 से अब तक 10000 से अधिक लोगों की मौत हो चुकी हैं. संयुक्त राष्ट्र की रिपोर्ट का कहना हैं कि वास्तव में मरने वालो की संख्या इससे बहुत अधिक हैं. हज़ारो-लाखो नागरिक घायल हो चुके हैं, और प्रतिदिन भी ये सिलसिला जारी रहता हैं.

आपको बता दे कि सऊदी अरब के नेतृत्व वाली गठबंधन सेना जिसमे अमेरिकी सेना भी शामिल हैं, यमन की सरकारी सेना के साथ मिलकर यमन में हूती विद्रोहियों के खिलाफ लड़ रही हैं, लेकिंन वही ईरानी न्यूज़ की रिपोर्ट के अनुसार यमन की सेना स्वयमसेवी बलो के साथ मिलकर सऊदी सेना से लड़ रही हैं.

इन दोनों रिपोर्ट की सच्चाई अभी तक साफ़ नहीं हुई हैं, कई मीडिया रिपोर्ट का कहना हैं कि सऊदी अरब की सेना यमन में हूती विद्रोहियों के खिलाफ लड़ रही हैं और हटाये गए राष्ट्रपति को वापस लाने की कोशिश कर रही हैं, वही कुछ का कहना हैं कि सरकारी सेना खुद सऊदी अरब के खिलाफ लड़ रही हैं.

देखे विडियो

Loading...