Thursday, June 17, 2021

 

 

 

अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस पर चीनी शिविरों के खिलाफ उइगर महिलाओं ने किया विरोध

- Advertisement -
- Advertisement -

देश के शिनजियांग क्षेत्र में चीन के नजरबंदी शिविरों के विरोध में सैकड़ों उइघुर महिलाओं ने कल अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस पर इस्तांबुल की सड़कों पर उतरकर विरोध-प्रदर्शन किया।

स्थानीय मीडिया के अनुसार, प्रदर्शनकारी चीन के वाणिज्य दूतावास के सामने “नरसंहार बंद करो” और “शिविरों को बंद करो” के नारे लगा रहे थे।

अंतर्राष्ट्रीय वकील और मानवाधिकार कार्यकर्ता गुल्डेन सोनमेज़ ने एक संवाददाता सम्मेलन में कहा, “हम उइगर महिलाओं के लिए आवाज हैं। हम नरसंहार के खिलाफ हैं।”

चीन का झिंजियांग क्षेत्र – पूर्वी तुर्किस्तान – लगभग दस मिलियन उइगर का घर है। शिनजियांग की लगभग 45 फीसदी आबादी वाले तुर्क मुस्लिम समूह ने लंबे समय से चीनी अधिकारियों पर सांस्कृतिक, धार्मिक और आर्थिक भेदभाव का आरोप लगाया है।

चीन ने पिछले दो वर्षों में इस क्षेत्र में प्रतिबंधों को बढ़ा दिया है, पुरुषों को बढ़ती दाढ़ी के साथ और महिलाओं को नकाब पहनने से रोक दिया है। कई विशेषज्ञों का मानना है कि यह दुनिया के सबसे व्यापक इलेक्ट्रॉनिक निगरानी कार्यक्रम के रूप में से एक है।

अमेरिकी अधिकारियों और संयुक्त राष्ट्र के विशेषज्ञों के अनुसार, एक मिलियन लोगों या शिनजियांग में लगभग सात प्रतिशत मुस्लिम आबादी को “राजनीतिक पुन: शिक्षा” शिविरों के विस्तार नेटवर्क में रखा गया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Hot Topics

Related Articles