44

अमरीकी कांग्रेस में शस्त्र सेवा समिति के प्रमुख मैक थोर्नबेरी ने भारतीय अख़बार इकॉनॉमिक टाइम्स से बात करते हुए कहा, एस-400 को लेकर अमरीकी प्रशासन और समिति में काफ़ी चिंता पायी जाती है।

थोर्नबेरी ने धमकी देते हुए कहा, अगर भारत रूस से एस-400 ख़रीदेगा तो दोनों देशों के बीच रक्षा सहयोग ख़तरे में पड़ जाएगा।

अमरीकी उच्च अधिकारी ने भारत सरकार से मांग की है कि वह रूस से एस-400 ख़रीदने में जल्दाज़ी से काम न ले, क्योंकि इसके गंभीर परिणाम हो सकते हैं।

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

trump congress

ग़ौरतलब है कि रूस से आधुनिक मिसाइल रक्षा प्रणाली एस-400 ख़रीदने के कारण, इसी तरह की धमकी अमरीका ने तुर्की को भी दी थी, लेकिन तुर्की ने अमरीका की इस धमकी को ख़ारिज करते हुए कहा है कि वाशिंगटन दूसरे देशों के आंतरिक मामलों में फ़ैसला लेना वाला कौन होता है?

अब देखना यह है कि भारत, अमरीका की इस धमकी के आगे झुकता है या अपने राष्ट्रीय हितों को सर्वोपरि रखते हुए रूस के साथ इस समझौते पर आगे बढ़ता है।