तनातनी के बीच अमेरिका बोला – जंग नहीं चाहते अगर ईरान ने हम’ला किया तो मिलेगा जवाब

11:59 am Published by:-Hindi News

अमेरिका के विदेश मंत्री माइक पोम्पिओ ने चेतावनी दी है कि यदि ईरान कोई भी हमला करता है तो अमेरिका उसका ‘‘त्वरित एवं निर्णायक’’ जवाब देगा। पोम्पिओ ने एक बयान में कहा, ‘‘तेहरान में सत्ता को यह समझना चाहिए कि यदि वे अमेरिकी हितों या नागरिकों के खिलाफ किसी भी प्रकार से हमला करते हैं तो अमेरिका त्वरित एवं निर्णायक कार्रवाई करके उसका जवाब देगा।’’

उन्होंने कहा, ‘‘ईरान को हमारे संयम को संकल्प की कमी समझने की भूल नहीं करनी चाहिए। अभी तक ईरानी शासन ने हिंसा का विकल्प चुना है और हम तेहरान के उन लोगों से शासन का यह व्यवहार बदलने की अपील करते हैं जो तनाव कम करके समृद्ध भविष्य की राह देखते हैं।”

पोम्पिओ ने अमेरिकी राष्ट्रपति के उस बयान का जिक्र करते हुए यह बात की, जब डोनाल्ड ट्रंप ने बुधवार को कहा था कि वह ‘‘किसी दिन ईरान के नेताओं के साथ बैठक करना चाहते थे ताकि कोई समझौता किया जा सके और इससे भी जरूरी यह है कि ईरान जिस भविष्य का हकदार है, उसे वह देने की दिशा में कदम उठाया जा सके।”

पोम्पिओ ने आरोप लगाया कि ईरान ने हालिया सप्ताह में अपने कदमों और बयानों से तनाव और बढ़ाया है। उन्होंने कहा कि अमेरिका और उसके सहयोगियों का रुख साफ है: ‘‘हम युद्ध नहीं चाहते”। उन्होंने कहा, ‘‘लेकिन 40 वर्षों से अमेरिकी जवानों की हत्या, अमेरिकी केंद्रों पर हमले और अमेरिकियों को बंदी बनाया जाना इस बात की लगातार याद दिलाते हैं कि हमें अपनी रक्षा में कदम उठाने ही होंगे।’

वहीं यूरोपीय देशों ने भी गुरुवार को तेहरान की ओर से दिए गए ‘अल्टीमेटम’ को खारिज कर दिया लेकिन अमेरिका के साथ बढ़ते तनाव के बीच ईरान के एटमी करार को बचाने के लिए आगे बढ़ने का इरादा जताया। ईरान ने कहा था कि 2015 के समझौते के तहत कुछ प्रतिबंधों पर बनी सहमति से पीछे हट सकता है और धमकी दी कि अगर यूरोप, चीन और रूस प्रतिबंधों पर 60 दिनों के अंदर राहत देने में नाकाम रहे तो वह आगे की कार्यवाही करेगा।

खानदानी सलीक़ेदार परिवार में शादी करने के इच्छुक हैं तो पहले फ़ोटो देखें फिर अपनी पसंद के लड़के/लड़की को रिश्ता भेजें (उर्दू मॅट्रिमोनी - फ्री ) क्लिक करें