अमरीका और उत्तरी कोरिया के बीच तनाव में वृद्धि होने और संभावित युद्ध के मद्देनज़र, चीन ने उत्तरी कोरिया की सीमा पर सैन्य उपस्थिति बढ़ा दी है। कोरियाई प्रायद्वीप में जारी तनाव के कारण, चीन ने इलाक़े में अतिरिक्त एक लाख सैनिकों को तैनात कर दिया है।

जापानी अख़बार यूमूरी ने चीनी सूत्रों के हवाले से कहा है कि कोरियाई प्रायद्वीप में अपने सैनिकों को तैनात करने के अलावा, चीन ने अपनी सेना को हाई अलर्ट पर रखा है।

इससे पहले अमरीका सीधे रूप से उत्तरी कोरिया को परमाणु हमले की धमकी दे चुका है, जिसके जवाब में उत्तर कोरिया ने भी कहा था कि वह अमरीका के लिए किसी भी समय युद्ध के लिए तैयार है।

उत्तर कोरिया पिछले साल दो परमाणु परीक्षण कर चुका है और उसने हाल ही में इंटरकॉन्टिनैंटल मिसाइल का टेस्ट किया था, जो नाकाम रहा था।

हाल ही में अमरीकी राष्ट्रपति डोनल्ड ट्रम्प ने धमकी देते हुए कहा था कि अगर चीन प्यूंगयांग को निंयत्रिण रखने में अपने असर का इस्तेमाल नहीं करता है तो यह अच्छा नहीं होगा।

अमरीकी राष्ट्रपति ने का कहना था कि अगर चीन उत्तर कोरिया के मसले को हल नहीं करता है तो यह हमें अकेले ही हल करना होगा और हम ऐसा कर सकते हैं।

विशेषज्ञों का कहना है कि अगर कोरियाई प्रायद्वीप में युद्ध छिड़ता है तो चीन इससे ख़ुद को अलग नहीं रख पाएगा। इस प्रकार तीसरा विश्व युद्ध छिड़ने का ख़तरा पैदा हो जाएगा।

Loading...

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें