अमरीका के सेंट लुइस में अमरीकी मुसलमानों ने यहूदी कब्रिस्तान की मरम्मत का जिम्मा उठाया हैं. इसके लिए उन्होंने एक ख़ास कैंपेन भी चलाया.

सोमवार को मिसूरी के सेंट लुइस शहर स्थित एक यहूदी कब्रिस्तान में करीब 170 हेडस्टोन क्षतिग्रस्त हो गए थे. स्थानीय प्रशासन ने इसे ‘यहूदी समुदाय को निशाना बनाते हुए किया गया हमला’ बताया था. इसके बाद अमरीकी मुसलमानों ने यहूदियों के इस कब्रिस्तान के पुनर्निर्माण का जिम्मा उठाते हुए करीब बीस हज़ार डॉलर का फंड एकत्रित करने की योजना बनाई.

मुस्लिमों की और से फंड एकत्रित करने के लिए कैंपेन शुरू हुई तो अमरीकी मुसलमानों ने इसमें दिल खोलकर हिस्सा लिया. करीब तीन हज़ार लोगों ने मिलकर 85,000 डॉलर से ज्यादा का फंड प्रदान किया. यह फंड मरम्मत की लागत के लिए बनाए गए टार्गेट से करीब चार गुना बताया गया है.

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

अमरीका के मुस्लिम संगठनों ने भी इस घटना की कड़ी निंदा की है. नॉर्थ अमरीकी इस्लामिक सोसायटी के अध्यक्ष अज़हर अज़ीज़ ने अपने बयान में कहा कि वे इस वक्त में यहूदियों के साथ हैं. साथ ही कब्रिस्तान के पुनर्निर्माण में वो यहूदी समुदाय की मदद करेंगे.

Loading...