dhar

dhar

अमेरिका ने इस्लामिक स्टेट (आईएस) के भारतीय मूल के ब्रिटिश आतंकी सिद्धार्थ धर को ग्लोबल घोषित किया है. अमेरिकी सरकार के द्वारा की गई इस घोषणा के बाद सिद्धार्थ धर पर कई तरह के प्रतिबंध लगेंगे. अमेरिका में मौजूद उसकी प्रॉपर्टी भी जब्त की जाएगी.

अमेरिकी गृह मंत्रालय के मुताबिक, सिद्धार्थ धर के अलावा बेल्जियम मूल के मोरक्को के नागरिक अब्दुल लतीफ गनी को भी ग्लोबल टेररिस्ट घोषित किया गया है. गनी की भी संपत्तियां जब्त होंगी.

धर उस वक्त चर्चा में आया था, जब यजीदी मूल की नाबालिग निहाद बराकात ने मई 2016 में ‘इंडिपेंडेंट’ को बताया था कि धर ने ही उसका अपहरण किया था और बाद में उस पर यातनाएं ढाई थीं।.. वह तब उसे मोसुल ले गया था, जो इराक में आतंकी संगठन का गढ़ माना जाता है.

इसके पहले वह अल मुहाजिरुन नाम के आतंकी संगठन का मुख्य सदस्य था. हालांकि 2014 में उसे गिरफ्तार कर लिया गया था. लेकिन उसी साल जमानत के बाद वह अपने परिवार के साथ सीरिया भाग गया था. कहा जाता है कि वह आईएस के मोहम्मद एमवाजी की जगह ले चुका है.

रिपोर्ट में कहा गया है कि धर आईएस का सीनियर कमांडर है और उसे “नया जिहादी जॉन” कहा जाता है. बता दें कि जनवरी 2016 में यूके के लिए जासूसी करने वाले कई कैदियों की आईएस ने गला काटने का वीडियो जारी किया था. उसमें मास्क पहने जो शख्स था वह कथित तौर पर धर था.

Loading...

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें